बताए योग के फायदे और नशा के दुष्परिणाम

बताए योग के फायदे और नशा के दुष्परिणाम

होशंगाबाद। पुलिस अधीक्षक आशुतोष प्रताप सिंह के निर्देश पर चल रहे पुलिस योग शिविर में दूसरे दिन शिविर में करीब 70 -80 पुलिस जवानों और आरआई जगदीश पाटिल ने लाभ लिया। शिविर पुलिस विभाग और महर्षि वेदव्यास योग शिक्षा एवं शोध समिति के तत्वावधान में आयोजित किया जा रहा है।
समिति के अध्यक्ष आर्य रघुवीर सिंह राजपूत योगाभ्यास कर रहे हैं, इसके दूसरे ही दिन सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे हैं, क्योंकि पहले दिन संख्या कम होना और दूसरे दिन संख्या बढ़ाना है। प्रशिक्षक श्री राजपूत ने योग क्रियाओं के दौरान बताया कि नशा नाश की जड़ होता है, इसलिए जितने भी प्रकार के व्यसन हों उसे त्याग देना चाहिए, क्योंकि व्यसन से कलह और लड़ाई झगड़े होते हैं। उन्होंने उदाहरण देते हुए बताया कि तंबाकू का रस ऊर्जावान भोजन को भी विषाक्त बना देता है। लगातार योग करने से कई प्रकार की बीमारियों से निजात पा सकते हैं। नित्य योगिक क्रिया करने से मनुष्य तंदुस्त और तरोताजा रहता है। संगीतमय योग के साथ पुलिस जवान भी योगिक क्रिया सीख रहे हैं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: