माँ नर्मदा के बिना प्रदेश नही चल सकता – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री ने कहा मिल्क रूट की तरह फ्रुट रूट बनाए जायेंगे

मुख्यमंत्री ने कहा मिल्क रूट की तरह फ्रुट रूट बनाए जायेंगे
होशंगाबाद। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि माँ नर्मदा जीवनदायनी है माँ नर्मदा के बिना प्रदेश नहीं चल सकता है। यह है तो खेत व जीवन है। नर्मदा बचपन का झूला, जवानी की फुलवारी एवं बुढ़ापे की काशी है। मुख्यमंत्री आज होशंगाबाद जिले के सांगाखेड़ा खुर्द में आयोजित नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा के कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान धर्म पत्नी श्रीमती साधना सिंह के साथ यात्रा में शामिल हुए। उन्होंने यात्रा का ध्वज एवं श्रीमती साधना सिंह ने यात्रा का कलश रखा। इस अवसर पर उन्होंने माँ नर्मदा के चित्र पर माल्यार्पण कर कन्याओ का पूजन भी किया।
नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्य प्रदेश की धरती पर एक अदभुत आंदोलन चल रहा है जो पर्यावरण को बचाने, माँ नर्मदा को प्रदूषण से मुक्त कराने के लिए किया जा रहा है। यह यात्रा अदभुत है और यह विश्व का सबसे बड़ा आंदोलन है जो जल संरक्षण एवं संवर्धन के लिए चलाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा पाप नाशनी है। उसके दर्शन मात्र से ही मनुष्य के पाप नष्ट हो जाते है।
hbad13117 (1)मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जहां-जहां लोगो ने मुझसे पानी माँगा मैंने माँ से कहां लोगो की प्यास बुझाओ और माँ नर्मदा वहाँ चल दी। यह नदी जीवन देने के साथ-साथ सिंचाई के लिए पानी व बिजली भी दे रही है। श्री चौहान ने कहा कि शासकीय एवं किसानो की निजी भूमि का मिट्टी परीक्षण करके फलदार पौधे लगाए जायेंगे इसके लिए किसानो को प्रति हैक्टेयर 20 हजार रूपए का अनुदान दिया जाएगा। पौधो को लगाने पर उद्यानिकी विभाग द्वारा 40 प्रतिशत की सबसिडी भी दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि जो जमीन डूब क्षेत्र में आती है उस पर वृक्ष नही लगाए जायेंगे।
उन्होंने बताया कि मिल्क रूट की तरह फ्रूट रूट भी बनाये जायेंगे। नर्मदा नदी पर प्रवाहित होने वाले सिवेज के पानी का वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर पाईप लगाकर शुद्ध किया जाएगा। यह शुद्ध पानी किसानो को सिंचाई हेतु दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके लिए 1500 करोड़ रूपए स्वीकृत भी किये गये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा नदी के किनारे के गाँवो में शौचालय बनाए जायेंगे, प्रमुख तटो पर महिलाओ के लिए चेजिंग रूम भी बनाए जायेंगे। मुख्यमंत्री ने उपस्थित जनसमुदाय से आव्हान किया कि वे माँ नर्मदा में पूजन सामग्री एवं मूर्तियो का विसर्जन ना करे, अपितु इसके लिए उन्होंने हर नदी तट पर एक पूजन कुण्ड बनाने की बात कही, जहां पूजन सामग्री व मूर्तियो का विसर्जन किया जा सके।
भजन मंडली की प्रतियोगिता होगी आयोजित
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सांगाखेड़ा खुर्द में बताया कि 3 फरवरी को नर्मदा जयंती के अवसर पर सभी नर्मदा किनारे के 16 जिलो में भजन मंडली की प्रतियोगिताए आयोजित की जाएगी। भजन मंडली के प्रथम विजेता को 1 लाख रूपए, द्वितीय विजेता को 50 हजार रूपए एवं तृतीय को 25 हजार रूपए का पुरूस्कार दिया जाएगा।
श्री चौहान ने कहा कि 16 जिलो के बीच भी भजन मंडलियो में आपस में प्रतियोगिताएं कराई जाएगी उसमें जो भजन मंडली प्रथम आएगी उसे 2 लाख रूपए का पुरूस्कार दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी स्कूलो में चित्रकला, भजन, नर्मदा पाठ, रंगोली, पेंटिंग की प्रतियोगिता नर्मदा जयंती पर आयोजित होगी। उन्होंनें 14 जनवरी को होने वाले आनंदम कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि कोई भी व्यक्ति जिसके पास आवश्यकता से अधिक कपड़े, बर्तन, चादर, किताब व अन्य सामग्री है वो एक स्थान पर उसे रख देगा एवं जिस व्यक्ति को जो सामग्री की आवश्यकता है वो उसे वहां से उठा लेगा।
दुष्कर्म करने वालो के लिए कड़े कानून बनाए
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि समाज के उन दुष्कर्मी एवं नराधम व्यक्तियों को सजा देने के लिए संविधान में कड़ा प्रावधान करना चाहिए। ऐसे व्यक्तियों को फांसी की सजा देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बेटी है तो कल है अत: बेटियो को बचाना एवं पढ़ाना आवश्यक है।
मुख्यमंत्री ने नर्मदा सेवा समिति में महिलाओ को भी सम्मिलित करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगो को संकल्प दिलाया कि वे जनसमुदाय को नर्मदा नदी के संरक्षण के प्रति जागरूक करेंगे, वृक्षारोपण, स्वच्छता, जल संरक्षण के प्रति जागरूक करेंगे और सदैव स्वच्छता, जल संरक्षण के प्रति प्रयासरत रहेंगे।
इस अवसर पर मंहत साध्वी प्रज्ञा भारती व गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी भोपाल के अध्यक्ष ज्ञानी दिलीप सिंह ने उपस्थित लोगो को संबोधित किया। कार्यक्रम अवसर पर म.प्र. विधानसभा के अध्यक्ष डा. सीताशरण शर्मा, वन मंत्री श्री गौरीशंकर शैजवार, खाद्य प्रसंस्करण व वन राज्यमंत्री तथा होशंगाबाद जिले के प्रभारी मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, नरसिंहपुर-होशंगाबाद सांसद श्री उदय प्रताप सिंह, म.प्र.खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, म.प्र.वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह, हरदा के पूर्व विधायक श्री कमल पटेल, साध्वी प्रज्ञा भारती साध्वी योगमाता तीर्थ, संत बालकदास, नर्मदापुरम् संभाग कमिश्नर श्री उमाकांत उमराव, पुलिस महानिरीक्षक श्री रवि कुमार गुप्ता, कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष प्रताप सिंह सहित जनप्रतिनिधिगण तथा बड़ी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: