युवा मतदान कर भारत के लोकतंत्र को मजबूत करें :- एडिशनल कमिश्नर

मतदाता देश के गणतंत्र की आधारशिला है :- कलेक्टर श्री लवानिया

मतदाता देश के गणतंत्र की आधारशिला है :- कलेक्टर श्री लवानिया
होशंगाबाद। जब हमारे देश की केबिनेट ने यह निर्णय पास किया कि मतदाता की उम्र 21 वर्ष से घटाकर 18 वर्ष कर दी गई है। यह निर्णय युवाओ के लिए मैसेज था कि भारतीय लोकतंत्र में आपकी भागीदारी कितनी महत्वपूर्ण है। युवा अनिवार्य रूप से चुनाव में मतदान कर भारत के लोकतंत्र को मजबूत व समद्ध करने में अपनी महत्ती भूमिका निभाएं, उक्त बात नर्मदापुरम् संभाग के एडिशनल कमिश्नर श्री आर.के. मिश्रा ने 7वें जिला स्तरीय राष्ट्रीय मतदाता दिवस के कार्यक्रम अवसर पर कही, वे यहां युवा मतदाताओ एवं अधिकारियो को सम्बोधित कर रहे थे। स्थानीय शासकीय एस.एन.जी. स्कूल के सभाकक्ष में आयोजित कार्यक्रम में कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पी.सी. शर्मा, अपर कलेक्टर श्री मनोज सरियाम, एस.डी.एम. श्री मनोज उपाध्याय, युवा मतदाता, शिक्षकगण व स्कूली बच्चें मौजूद थे।
एडिशनल कमिश्नर श्री मिश्रा ने 7वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस की उपस्थित लोगो को शुभकामनाएं भी दी और कहा कि हम मतदाताओ खासकर युवा मतदाताओ को प्रेरित करें कि वे मतदान में महत्ती भूमिका निभाए और मतदान प्रक्रिया में आवश्यक रूप से शामिल होकर लोकतंत्र को मजबूत करें। उन्होने कहा कि म.प्र. का मतदान प्रतिशत अन्य राज्यो की तुलना में कम है अत: युवा मतदान कर लोकतंत्र को सुदृढता प्रदान करें। उन्होने कहा कि भारत की चुनाव प्रणाली दुनिया में बेहतर है।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अविनाश लवानिया ने कहा कि मतदान एवं मतदाता देश के गणतंत्र की आधार शिला है अत: इसका महत्व सभी को समझना चाहिए। उन्होने कहा कि जिला निर्वाचन कार्यालय सभी मतदाता को जोडने का कार्य कर रहा है अत: स्वयं मतदाता का यह दायित्व है कि वे इससे जुडे। कलेक्टर ने कहा कि नि:शक्तजनो के भी नाम मतदाता सूची में प्राथमिकता के साथ जोडे गए है इसके लिए स्पर्श पोर्टल एवं सामाजिक न्याय विभाग के पोर्टल से दिव्यांगो की जानकारी निकाल कर नाम जोडे गए है। सभी बी.एल.ओ. ने भी प्रयास किया है कि किसी का नाम मतदाता सूची में दर्ज होने से ना छूट जाए।
निर्वाचन आयोग के संदेश का वाचन
मतदाता दिवस कार्यक्रम में एडिशनल कमिश्नर श्री मिश्रा ने भारत निर्वाचन आयोग के निर्वाचन आयुक्त के संदेश का वाचन किया एवं उपस्थित लोगो को मतदान करने की शपथ दिलाई।
मतदाता सूची में अधिक से अधिक नाम जोडने वाले बी.एल.ओ. एवं आंगनबाडी कार्यकर्ताओ को एडिशनल कमिश्नर श्री मिश्रा ने पुरूस्कार प्रदान किया। मतदान दिवस के अवसर पर विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर वाद-विवाद, निबंध, चित्रकलां, स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था, जिसके विजेता छात्र-छात्राओ को पुरूस्कार प्रदान किए गए।
इसके पूर्व मां सरस्वती एवं डां भीम राव अम्बेडकर के चित्र पर दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम की शुरूआत की गई। सहयोग विशेष संस्था के बच्चो ने सूरज सैनी के नेतृत्व में म.प्र. गान की प्रस्तुति दी इस अवसर पर नए मतदाताओ को मतदाता परिचय पत्र प्रदान किए गए। सहयोग संस्था के दृष्टिबाधित छात्र-छात्राओ ने लोगो को मतदान करने के लिए जागरूक करने एवं मतदान का समुचित प्रयोग करने के लिए नाटिका का मंचन किया, जिसकी सभी ने सराहना की इसके अलावा शांति निकेतन, पाणनी विद्यापीठ, समेरेटियन स्कूल के बच्चों ने भी नाटिका की प्रस्तुति दी। जिले के आईकान शास्त्री नृत्य गोपाल कटारे व सारिका धारू ने कविता पाठ की प्रस्तुति की।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: