आंदोलन को कमज़ोर करने का आरोप

महिलाओं ने कलेक्टर व एसपी को दिया ज्ञापन

महिलाओं ने कलेक्टर व एसपी को दिया ज्ञापन
इटारसी। समीपस्थ ग्राम सोनासांवरी में शराब दुकान हटाने के लिए आंदोलनरत महिला मोर्चा की महिलाओं ने सरपंच प्रीति पटेल सहित पांच महिलाओं पर नामजद व 50-60 अन्य महिलाओं पर वीडियो के आधार पर आपराधिक प्रकरण दर्ज करने पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए एकजुटता का संकल्प लिया है।
उल्लेखनीय है कि समाचार पत्रों के माध्यम से महिला मोर्चा की महिलाओं को उनके विरूद्ध आबकारी विभाग/शराब ठेकेदार द्वारा तोडफ़ोड़ व आगजनी के प्रकरण दर्ज करने का समाचार ज्ञात हुआ है। महिलाओं का कथन है कि हम लोग शांतिपूर्वक अंहिसात्मक प्रदर्शन भजन कीर्तन के माध्यम से कर रहे थे। पहले दिन से ही शराब ठेकेदार के कर्मचारियों द्वारा छीटाकशी करते हुए जबरन उकसाया जा रहा था। ऐसा प्रतीत होता है कि विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीतासरण शर्मा के पहुंचने के पहले एकत्र हुई महिलाओं को शराब के ठेकेदार द्वारा भेजे गये कुछ आदमी और महिलाओं ने उकसा कर व खुद पहल करके दुकान में तोडफ़ोड़ करवाई ताकि शांतिपूर्वक चल रहे आंदोलन को गैरकानूनी कार्यवाही के अंदर फसाया जा सके। सभी महिलाओं की ओर से महिला मोर्चा ने कलेक्टर एवं जिला पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर निष्पक्ष जांच कराये जाने की मांग करते हुये महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं को झूठे आपराधिक प्रकरण से मुक्त करने का अनुरोध किया है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: