आग का कहर, दो गांवों में फसल मकान जले

मेहरागांव में मजदूर का मकान, चिल्लई में खेतों में फसल जल

मेहरागांव में मजदूर का मकान, चिल्लई में खेतों में फसल जल
इटारसी। इस वर्ष आगजनी की सर्वाधिक घटनाएं हुईं है और अब भी आग का कहर थम नहीं रहा है। आग की चपेट में खेत, खलिहान, मकान, मवेशी आ रहे हैं और किसानों को लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा है। गुरुवार को इटारसी के आसपास के ग्रामीण अंचलों में भी आग की घटनाएं हुई हैं।
दोपहर में शहर से सटे मेहरगांव में एक मजदूर के मकान में लगी आग में करीब एक लाख रुपए का नुकसान परिवार को उठाना पड़ा है। परिजनों के अनुसार आग का कारण पता नहीं चल सका है, घटना के फौरन बाद नगर पालिका की दमकल ने पहुंचकर आग बुझाई जिससे आग फैल नहीं सकी। घटना में मकान के सामने बनी छपरी और एक कमरे में रखा सामान जल गया है। मेहरागांव के अशोक पिता लल्लू चौरे के मकान में दोपहर में करीब 3 बजे अज्ञात कारणों से आग लग गई। मकान के सामने बनी छपरी से शुरु हुई आग पहले कमरे तक पहुंच गई थी। आग से छपरी में रखी नयी मोटर सायकिल जलकर राख हो गई तथा कमरे में रखी दो सायकिल भी जल गईं। इसके अलावा कमरे में बंधी गाय और बछड़ा भी झुलस गया है। गाय को बचाने के प्रयास में परिवार की एक लड़की का हाथ भी आग में झुलस गया। सूचना के तत्काल बाद नगर पालिका से दमकल पहुंची और आग पर काबू पाया। सूचना के बाद सरपंच जितेन्द्र पटेल भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि गरीब परिवार है, शासन की योजना के तहत जो भी मदद होगी करायी जाएगी।
it204 (3)घबराकर ऊपर भागा परिवार
श्री चौरे की बड़ी बेटी दीक्षा चौरे ने बताया कि दोपहर में घर के सारे सदस्य भीतर के कमरे में सो रहे थे, बाहर का दरवाजा बंद था। जैसे ही आग लगी तो दरवाजा बंद होने से उन्हें पता नहीं चला, लेकिन मोहल्ले के लोगों ने आवाज देकर उन्हें जगाया। जैसे ही दरवाजा खोला तो आग की लपटें और धुआं भीतर के कमरे में घुसा। हम सारे लोग घबराकर ऊपर के कमरे में भागे। नीचे कमरे में धुआं-धुआं हो जाने से नीचे नहीं हा सकते थे। ऊपर सारे लोग डरे हुए थे। इसी दौरान मोहल्ले के लोगों ने अपने-अपने स्तर से आग बुझाने का प्रयास किया और गांव से ही एक टेंट हाउस से सीढ़ी जाकर सबको सीढ़ी के ज़रिए बाहर निकाला। सूचना के करीब बीस मिनट बाद पहुंची दमकल ने आग को पूरी तरह बुझाया।
रूपापुर में फसल जल गई
ग्राम पंचायत चिल्लई के ग्राम रूपापुर में दोपहर 2 बजे खेत से चली नरवाई की आग ने मूंग की फसल को अपनी चपेट में ले लिया। आग से करीब 10 एकड़ की मूंग की फसल जल गई जिससे किसानों को लाखों का नुकसान हो गया। ग्राम के किसान अभिषेक दुबे ने बताया की लगभग 4-5 किसानों की फसल जल गई है।
जिन किसानों की फसल जली है उनमें बसंत चौरे पिताखुशीलाल चौरे की 3 एकड़ की मूंग की फसल, पाइप, स्टार्टर, डोरी आदि जली। छन्नूलाल यादव पिता हग्गू यादव की 2एकड़ मूंग की फसल, पाइप, डोरी, टपरिया, कमलेश चौरे पिता साहबलाल चौरे 2 एकड़ की मूंग, डोरी, गोवर्धन यादव पिता मानसिंह यादव की 2 एकड़ मूंग, डोरी, लेजम पाइप और रामबगस यादव पिता मूलचंद यादव की डोरी करीब 500 फुट जल गई। घटना में किसानों को लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: