कृषि उपज मंडी समिति ने पारित किया प्रस्ताव

मंडी परिसर में ही हो गेहूं की खरीदी

मंडी परिसर में ही हो गेहूं की खरीदी
इटारसी। कृषि उपज मंडी समिति ने कृषि उपज मंडी परिसर में ही समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी कराने का एक प्रस्ताव पारित किया है। अध्यक्ष की अनुमति से सदस्यों ने सर्वसम्मति से इस प्रस्ताव पर मुहर लगा दी। समिति सदस्यों को जानकारी मिली है कि इटारसी उपज मंडी परिसर में वर्षों से खरीदी कर रही इटारसी और घाटली सोसायटी को किसी वेयर हाउस में गेहूं खरीदी करने को कहा है। हालांकि इटारसी सोसायटी प्रबंधक किशोर चौधरी और घाटली सोसायटी के प्रबंधक अहसान खान ने इस बात से इनकार करते हुए कहा है कि उनके पास अभी तक ऐसे कोई आदेश नहीं हैं। बैठक में सदस्य पन्नालाल उईके, रामप्रकाश वर्मा, नर्मदा प्रसाद यादव, सरताज चौधरी, जमुना बाई बरखने, संगीता सोलंकी, सीताबाई, सतीश मेहतो, अध्यक्ष प्रतिनिधि देवेन्द्र पटेल, सचिव सुनील गौर मौजूद थे।
कृषि उपज मंडी समिति अध्यक्ष विक्रम तोमर ने कहा कि इटारसी मंडी परिसर में किसानों को काफी सुविधाएं मिलती हैं। यहां खाना, पानी, विश्राम के साथ ही सुरक्षा की व्यवस्था भी है। वेयर हाउसों के आसपास बड़ी संख्या में ट्रालियां पहुंचेंगी तो व्यवस्थाएं भी बिगड़ेगी। दोनों सोसायटी ने ऐसे किसी आदेश का होने से इनकार कर दिया। इधर सूत्र बताते हैं कि किसानों ने भी बड़ी संख्या में ऐसे किसी निर्णय की संभावना का विरोध किया है। किसानों का भी कहना है कि वेयर हाउस में गेहूं खरीदी काफी पीड़ादायक और समस्या पैदा करेगी। जैसे हर वर्ष मंडी परिसर में अनाज खरीदी होती है, वैसा ही इस वर्ष भी होना चाहिए।
बैठक में आज सदस्यों ने औबेदुल्लागंज की एक फर्म को मंडी टैक्स में छूट देने सहित सात प्रस्तावों को हरी झंडी दे दी। इसी तरह पिछले दिनों कृषि विपणन पुरस्कार एवं बंपर ड्रा के कार्यक्रम में व्यय हुई राशि का अनुमोदन भी समिति ने कर दिया है।कृषि मंडी समिति के अध्यक्ष विक्रम तोमर की अध्यक्षता में हुई बैठक में सागर न्यूट्रीमेंट्स प्रालि. ग्राम तामोट को बासमती धान क्रय पर मंडी फीस में 50 फीसदी की छूट दी गई है। यह छूट शासन की उद्योग नीति के तहत मिली है जो मंडी बोर्ड ने मप्र उद्योग संवर्धन नीति 2014 में वृहद श्रेणी की औद्योगिक एवं निवेश परियोजना के अंतर्गत उपलब्ध करायी है। इसके तहत मप्र में पैदा एवं यही प्रोसेस किए अनाज पर छूट का प्रावधान है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: