केवल पार्टस बेचने चुराता था हजारों की बाइक

केवल पार्टस बेचने चुराता था हजारों की बाइक

इटारसी। पुलिस ने यहां के नाला मोहल्ला से एक शातिर बाइक चोर को गिरफ्तार किया है। इसके चोरी के अंदाज भी निराले थे। यह बाइक चुराकर केवल उसके पाट्र्स बेचता था। मामले में पुलिस ने बाइक के पुर्जे खरीदने वाले कबाडी को भी गिरफ्तार किया है। इसके पास से खरीदे गए बाइक के पुर्जे जब्त किए है।
आज दोपहर यहां पुलिस थाने में मीडिया को जानकारी देते हुए अनुविभागीय अधिकारी अनिल शर्मा और टीआई भूपेन्द्र सिंह मौर्य ने बताया कि पिछले कुछ महीनों से बड़ी मात्रा में बाइक चोरी की शिकायतें प्राप्त हो रही थीं। एसपी आशुतोष प्रताप सिंह के निर्देश पर एडिशनल एसपी शशांक गर्ग और एसडीओपी अनिल शर्मा के मार्गदर्शन में टीआई के नेतृत्व में एक टीम बनायी गई। टीम में एएसआई संजय रघुवंषी, आरक्षक जयपाल, राजेश पवार, अजय खातरकर, भिक्कू यादव, भागवेन्द्र, राजेष जैन शामिल थे। टीम ने मुखबिर को सक्रिय करके सूचना प्राप्त की और आरोपी दीपक पिता रामदास मेहरा 46 वर्ष निवासी राज टाकीज के पीछे को पकडकर उसके पास से एक बाइक बजाज डिस्कवर जब्त की। पूछताछ के बाद उससे एक अपाचे, एक पल्सर, एक होंडा साइन, एक प्लेटिना, एक स्टार स्पोट्र्स, एक स्पलेंडर प्लस सहित कुल सात बाइक जब्त की। आरोपी इनके शाकप और एलाय व्हील खोलकर पांच-पांच सौ रूपए में बेच देता था। पुलिस ने पिछले दिनों बारह बंगला के सूने रेलवे आवास से जो बाइक जब्त की हैं, वह सब इसी दीपक द्वारा चुराई गई थीं। दीपक से जो बाइक जब्त की हैं उनमें पांच होशंगाबाद तथा दो इटारसी से चुराई गई थी।
कबाड़ी को भी पकड़ा
पुलिस ने दीपक से बाइक के कलपुर्जे खरीदने वाले कबाड़ी विजय पिता देशराज मेहता 62 वर्ष को भी पकड़कर उसके पास से दीपक द्वारा बेचे गए बाइक के पाट्र्स जब्त किए हैं। दीपक के खिलाफ धारा 379 के तहत कार्रवाई की गई जबकि विजय मेहता पर 411 के तहत गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से करीब ढाई लाख रूपए की सात मोटर सायकिल बरामद की हैं। दीपक इससे पहले 2015 में भी बाइक चोरी के तीन मामलों में जीआरपी द्वारा पकड़ा जा चुका है। यह बाइक चोरी करके रेलवे के खाली पड़े सूने आवास में रखकर वहीं से पुर्जे खोलकर बेचता रहता था।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: