खेत कटे नहीं, कैसे होगी 20 से गेहूं खरीदी

गेहूं उपार्जन के लिए सरकार ने तिथि घोषित की, अधिकारियों ने की तैयारी की समीक्षा

गेहूं उपार्जन के लिए सरकार ने तिथि घोषित की, अधिकारियों ने की तैयारी की समीक्षा
इटारसी। सरकार इस वर्ष 20 मार्च से ही समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद शुरु कर रही है। हालांकि जिले के अधिकांश हिस्सों में यह संभव नहीं है, क्योंकि ज्यादातर खेतों में अभी फसल कटने में मार्च का पूरा माह इंतज़ार करना पड़ सकता है। खरीद एजेंसियों के नुमाइंदे खुद बता रहे हैं कि यहां 30 मार्च से पूर्व गेहूं की फसल कट ही नहीं पाएगी। बावजूद इसके प्रशासन ने गेहूं खरीद की तैयारी तेज कर दी है। इस वर्ष गेहूं का समर्थन मूल्य 1525 रुपए से बढ़ाकर 1625 रुपए कर दिया है।
पिछले दिनों होशंगाबाद में हुई बैठक में बताया गया है कि 20 मार्च से खरीद शुरु होगी और उपज के रुपए एक हफ्ते में किसानों के खाते में डाल दिए जाएंगे। कलेक्टोरेट के रेवा सभाकक्ष में हुई गेहूं उपार्जन की संभागीय बैठक में नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंधक संचालक फैज अहमद किदवई और संचालक खाद्य विवेक पोरवाल ने समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी तैयारियों की समीक्षा की है।
एसडीएम ने किया निरीक्षण
एसडीएम अभिषेक गेहलोत ने आज गेहूं खरीद केन्द्र गोचीतरोंदा, जमानी और भट्टी का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि शासन ने 20 मार्च से खरीदी प्रारंभ करने के निर्देश दिए हैं। इस बार नए सिरे से किसानों का पंजीयन किया गया है तथा आधार नंबर एवं समग्र आईडी अनिवार्य होने से पंजीयन की डुप्लीकेसी होने की संभावना कम हुई है। एसडीएम श्री गेहलोत ने खरीद केन्द्रों का निरीक्षण किया जबकि बारदानों की व्यवस्था, गोदामों का चिन्हीकरण, परिवहन प्लान नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा किया जाएगा।
अभी खेत ही नहीं कटे हैं
शासन ने गेहूं खरीद केन्द्र के लिए 20 मार्च की तिथि निर्धारित की है, लेकिन इटारसी तहसील के कुल 13 खरीदी केंद्रों में से 8 खेतों में स्थित हैं, इसलिए फसल कटने के बाद ही यहां खरीद के लिए व्यवस्थाएं बन पायेंगी। प्रशासनिक तैयारी के तहत एसडीएम ने निरीक्षण किया तो केन्द्रों पर तौल कांटे दुरस्त मिल और सभी कांटो पर मापतौल की सील भी लगी मिली है। खरीद केन्द्रों के प्रबंधकों की मानें तो यहां 30 मार्च के बाद ही खरीद की स्थिति बन पाएगी, क्योंकि अभी गेहूं 20 मार्च से पूर्व तो कटने की उम्मीद बिलकुल भी नहीं लग रही है।
खरीद केन्द्र और लक्ष्य
* इटारसी वृहताकार सोसायटी से जुड़े केन्द्र इटारसी, रैसलपुर, घाटली, सनखेड़ा, व्यावरा भीलाखेड़ी और रामपुर.
कुल पंजीकृत किसान (अब तक) – 3805
खरीदी लक्ष्य-5 लाख 50 हजार क्विंटल.
* पुरानी इटारसी सोसायटी से जुड़े केन्द्र हैं, जमानी, गोंची तरोंदा, केसला, सुकतवा, पथरोटा, बिछुआ, भट्टी और सोनतलाई.
कुल पंजीकृत किसान- 3475
खरीदी लक्ष्य- 5 लाख 34 हजार 331

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: