गली-मोहल्लों में घूमी हुरियारों की टोली

गली-मोहल्लों में घूमी हुरियारों की टोली

इटारसी। फाल्गुन पूर्णिमा के पांचवें दिन रंगपंचमी का त्योहार जिलेभर में धूमधाम से मनाया गया। रंगपंचमी पर रंग एवं भंग का जादू इस कदर चढ़ा कि लोग खुद को होली खेलने से नहीं रोक पाए। आलम यह रहा कि दिनभर रंग-गुलाल उड़ा और हर तरफ रंगे चेहरे नज़र आए। खासकर लाल और गुलाबी रंगों का प्रयोग देखा गया। उत्साह इतना था कि बीते कई वर्षों से यहां रंगपंचमी पर दोपहर बाद से रंग का माहौल बनता था, इस वर्ष तो सुबह से ही हुरियारे ढोल लेकर एकदूसरे को गुलाल से रंगते हुए सड़कों पर आ गए थे। दोपहर में श्री द्वारिकाधीश मंदिर में जमकर होली खेली तथा फाग मंडली ने बैठकर खूब भजन गए।
सुबह से शुरू हुआ एक-दूसरे को रंगने-रंगाने का दौर देर शाम तक चलता रहा। हुरियारों की टोलियों ने गाजे-बाजे के साथ शहर की हर गली हर मोहल्ले में जाकर धूम मचाई। दोपहर में एमआर संगठन के सदस्यों ने ढोल की थाप पर नाचते हुए मेडिकल स्टोर्स पर पहुंचकर दवा व्यापारियों को गुलाल लगाया तो जयस्तंभ पर जमकर डांस किया। रंगपंचमी पर्व पर नगर में कई छोटे-छोटे दलों में लोग निकले और नाचते-गाते त्योहार का आनंद उठाया। पुराने और नए शहर के अलावा मालवीयगंज, सूरजगंज, गरीबी लाइन, लाइन एरिया में हुरियारों की टोलियां निकलीं। रंगपंचमी के अवसर पर शहर में सुबह से रंगों से सराबोर लोग टोलियों में सड़कों पर मस्ती करते हुए निकल पड़े थे। शहर में रंगों से पुते चेहरों और मस्ती में डूबे लोग धमाल करते नजर आए। छोटी-छोटी टोलियों में सड़कों पर रंगपंचमी मनाते हुरियारों की भीड़ निकलती रही। रंगपंचमी के अवसर पर आज लोगों ने मस्ती के मूड में निकलकर रंगों के पर्व का जमकर लुत्फ उठाया। खासकर युवाओं और बच्चों की टोलियां सुबह से ही रंग और गुलाल से रंगी हुयी नजर आयी। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल भी अनेक स्थानों पर तैनात रहा तथा पुलिस की मोबाइल वेन भी दिनभर शहर में घूमती रही।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: