गेहूं खरीद पर नज़र रखने बनी समिति

एसडीएम ने ली गेहूं खरीदी की तैयारी संबंधी बैठक

एसडीएम ने ली गेहूं खरीदी की तैयारी संबंधी बैठक
इटारसी। एसडीएम ने आज मंडी कार्यालय में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की तैयारी के संबंध में बैठक ली। वे कृषि उपज मंडी समिति के अध्यक्ष विक्रम तोमर के बुलावे पर मंडी कार्यालय पहुंचे थे।
दरअसल आज बिना बुलाए कुछ गांव के किसान गेहूं बेचने मंडी पहुंच गए थे। लेकिन मंडी में खरीदी प्रारंभ नहीं होने के कारण वे परेशान हो रहे थे। इसका निदान निकालने अध्यक्ष श्री तोमर ने एसडीएम अभिषेक गेहलोत को बुलाया था। एसडीएम श्री गेहलोत के हस्तक्षेप से आज आए किसानों का गेहूं व्यापारियों ने खरीदा।
बैठक में अध्यक्ष विक्रम तोमर, सचिव सुनील गौर, अध्यक्ष प्रतिनिधि देवेन्द्र पटेल सहित लगभग एक सैंकड़ा किसानों के अलावा मंडी में खरीद करने वाले व्यापारी अक्कू जैन, शैलेष ओसवाल, मनीष अग्रवाल, राजेन्द्र अग्रवाल कक्का, संजय अग्रवाल, संदीप मालवीय, प्रदीप अग्रवाल आदि मौजूद थे।
समिति रखेगी नज़र
कृषि उपज मंडी में समर्थन मूल्य पर होने वाली गेहूं खरीदी पर एक समिति नज़रें रखेगी तथा हर रोज की रिपोर्ट एसडीएम के पास भेजी जाएगी। इसका नेतृत्व तहसीलदार को सौंपा गया है। समिति में मंडी सचिव, मंडी प्रांगण प्रभारी, एक किसान, एक व्यापारी, एक कृषक सदस्य रहेंगे। समिति रोज की जानकारी एसडीएम को भेजेंगे।
यह देखेगी समिति
समिति खरीदी के दौरान यदि गेहूं नॉन एफएक्यू होता है और समर्थन मूल्य से कम पर बेचता जाता है तो यह देखेगी कि क्या किसान ने अपनी इच्छा से बेचा है, गेहूं को कम दाम में बेचने का कारण मिट्टी थी या कोई अन्य कारण? क्या गेहूं का दाना कमजोर था? इसी तरह के कारण होने पर समर्थन मूल्य से कम पर खरीद की जा सकेगी।
दूसरे दिन आरटीजीएस
जो भी व्यापारी इस तरह का गेहूं खरीदेगा तो उसे दूसरे दिन ही किसान के खाते में आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान करना पड़ेगा और इसकी जानकारी मंडी समिति को देनी होगी। यह समिति भुगतान संबंधी जानकारी एसडीएम कार्यालय को भेजेगी। यदि व्यापारी भुगतान नहीं करता है तो उसे अगली नीलामी में भाग नहीं लेने दिया जाएगा।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: