गेहूं बेचने किसान नहीं ले रहे रुचि

पिछले वर्ष की अपेक्षा दस फीसदी कम हुई सरकारी खरीद

पिछले वर्ष की अपेक्षा दस फीसदी कम हुई सरकारी खरीद
इटारसी। किसान समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने में रुचि नहीं ले रहा है। खरीद केन्द्र के सूत्रों की मानें तो किसान अभी गेहूं के दाम बढऩे की उम्मीद लगाकर फिलहाल बिक्री में रुचि नहीं ले रहे हैं। खरीद केन्द्रों के अनुसार पिछले वर्ष की अपेक्षा करीब दस फीसदी खरीद कम हुई है। हालांकि कुछ केन्द्रों पर खरीद का प्रतिशत पिछले वर्ष के बराबर ही है, कुछ में बहुत ही कम है।
सरकारी खरीद केन्द्र पर पचास फीसदी से अधिक किसानों को मैसेज़ किए जा चुके हैं, लेकिन इसमें भी किसान अपना गेहूं खरीद केन्द्र पर लाकर बेचने में रुचि नहीं ले रहे हैं। इसके पीछे कई प्रकार के कयास लगाए जा रहे हैं। माना जा रहा है कि किसान अभी रेट बढऩे की उम्मीद लगाए हैं और संभवत: समर्थन मूल्य की खरीद खत्म होने के बाद खुले में अच्छे रेट में बेचेंगे।
ये हो सकते हैं कम खरीद के कारण
इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है और ऐसे में किसान कई किलोमीटर आकर मंडी या खरीद केन्द्रों तक जाने से परहेज़ कर रहा होगा। एक कारण, कम खरीद का यह भी हो सकता है। इसके अलावा खरीद केन्द्र पर यह माना जा रहा है कि किसान अभी मूंग की फसल में व्यस्त था। अब मंूग की बुवाई से फुर्सत हुआ है, तो संभवत: अगले पंद्रह दिन में किसानों की आमद बढ़ जाए। एक कारण यह भी माना जा रहा है कि शादियों के सीज़न के कारण किसानों ने अभी अपना गेहंू रोक लिया है। शादियों से फ्री होने के बाद संभवत: किसान अपना गेहूं बेचने के लिए निकाले। फिलहाल अपने खर्च की पूर्ति के मुताबिक किसानों ने जनवरी-फरवरी में अच्छे दामों पर गेहूं बेच दिया था। उस वक्त किसान को 22 सौ रुपए तक दाम मिल गए थे। किसान जून में दाम और बढऩे की उम्मीद लगाकर भी अभी गेहूं बेचने में रुचि नहीं ले रहा है।
यहां इतना आया गेहूं
इटारसी और आसपास समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए तेरह केन्द्र बनाए गए हैं। इन केन्द्रों पर किसान अपना गेहूं लाकर बेच रहे हैं। समर्थन मूल्यों से मिली जानकारी देखी जाए तो अब तक सबसे अधिक गेहूं घाटली के केन्द्र पर खरीदा गया जबकि सबसे कम सुखतवा सोसायटी ने खरीदा है।
एक नज़र अब तक की खरीद पर
खरीद केन्द्र अब तक खरीद
इटारसी 33,630 क्विंटल
पथरोटा 32,000 क्विंटल
जमानी 30,000 क्विंटल
बिछुआ 7, 263 क्विंटल
सोनतलाई 7, 443 क्विंटल
सुखतवा 4117 क्विंटल
केसला 9500 क्विंटल
सनखेड़ा 31063 क्विंटल
रामपुर 30,900 क्विंटल
रैसलपुर 22,000 क्विंटल
घाटली 39,741 क्विंटल
तरोंदा अप्राप्त
भट्टी अप्राप्त

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: