चलती ट्रेन के एसी कोच में नाबालिग से छेड़छाड़

चलती ट्रेन के एसी कोच में नाबालिग से छेड़छाड़

इटारसी। ट्रेन में अपराध करने वालों के मन से जीआरपी का खौफ खत्म होता जा रहा है, इसीलिए लगातार घटनाएं घट रही हैं। ऐसी ही एक घटना बीती रात दानापुर-सिकंदराबाद एक्सप्रेस में हुई जब एक युवक ने एसी कोच में सफर कर रही एक नाबालिग से सोते वक्त छेड़छाड़ की। जैसे ही नाबालिग की नींद खुली तो उसने अपनी मां को जानकारी दी। उसके मां ने पिता को और फिर टीटीई तक खबर पहुंची। सूत्र बताते हैं कि जीआरपी ने आरोपी को ट्रेन से उतारकर हिरासत में ले लिया है, हालांकि जीआरपी अभी इसकी पुष्टि नहीं कर रही है। घटना पर किशोरी का बयान लेने ट्रेन में क्यूआईटी भेजी गई थी।
मिली जानकारी के अनुसार 12792 दानापुर-सिकंद्राबाद एक्सप्रेस के एसी कोच बी-3 में एक पांच सदस्यीय परिवार भूलनपुर बिहार से सिकंद्राबाद की यात्रा का रहा था। उनका पूरा परिवार कोच के बर्थ नंबर 33 से 37 पर था। सीट नंबर 34 पर परिवार की 15 वर्षीय बालिका भी सो रही थी। सुबह करीब साढ़े चार बजे के बीच जब ट्रेन ने जबलपुर स्टेशन छोड़ा तो सामने की 39 नंबर बर्थ पर सफर कर रहे एक युवक ब्रजेश सिंह ने उतरकर किशोरी से सोते में छेड़छाड़ शुरु कर दी। अचानक किसी के समीप होने की आहट पाकर किशोरी जाग गई और अपनी मां को बताया। किशोरी की मां ने उसके पिता को जगाकर घटना की जानकारी दी तो पिता ने युवक को वहीं बिठा लिया और टीटीई को सूचना दे दी। बताया जाता है कि टीटीई ने कंट्रोल रूम को जानकारी दी और वहां से सूचना जीआरपी इटारसी के पास आयी तो यहां युवक को उतार लिया गया तथा किशोरी के बयान दजऱ् करने यहां से क्यूआईटी को भेज दिया। त्वरित विवेचना दल ने किशोरी के बयान दर्ज कर लिए हैं। आरोपी युवक ब्रजेश सिंह के खिलाफ धारा 354 आईपीसी 7-8 पास्को एक्ट का प्रकरण दर्ज कर लिया है।
इनका कहना है…!
दानापुर-सिंकद्राबाद एक्सप्रेस में छेड़छाड़ की घटना की सूचना पर आरोपी युवक के खिलाफ किशोरी की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर लिया है। घटना गाडरवारा के आसपास की है, शून्य पर अपराध दर्ज किया है। डायरी वहां भेजी जाएगी।
बीएस चौहान, जीआरपी थाना प्रभारी

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: