जादू नहीं विज्ञान है, समझना-समझाना आसान है

ग्रामीणों को विज्ञान के प्रति जागरुक किया
इटारसी. शासकीय हाईस्कूल गोंचीतरोंदा में आज जादू नहीं विज्ञान है, समझना-समझाना आसार है, कार्यक्रम के अंतर्गत अनेक रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी प्रदान की गई.
ग्रामीणों और छात्र-छात्राओं के मध्य विद्यालय की शिक्षिका साधना सोनी एवं क्षिप्रा विज द्वारा तैयार लघु नाटिका के माध्यम से विद्यार्थियों निकिता, रोशनी, वेदिका, प्राची तथा आलोक और रितिक ने प्रस्तुति देकर नारियल में आग लगना या पानी में आग लगाना बताया. नाटिका में बताया कि यह जादू नहीं बल्कि विज्ञान की रासायनिक क्रियाएं हैं जिनके द्वारा ढोंगी व तांत्रिक बाबा भोले-भाले ग्रामीणों को ठगते हैं. कार्यक्रम के पूर्व छात्र-छात्राओं को शासन की योजना के अंतर्गत सायकिलों का नि:शुल्क वितरण किया. इस अवसर पर चंद्रकांत चौरे एवं अशोक पटेल मौजूद थे. विद्यालय की प्राचार्य एमएस राय ने उपस्थित जनप्रतिनिधियों, ग्रामवासियों, शिक्षिक-शिक्षिकाओं का आभार व्यक्त किया.

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: