दस्तावेज लेकर छह हजार से ज्यादा निवेशक पहुंचे

दस्तावेज लेकर छह हजार से ज्यादा निवेशक पहुंचे

इटारसी। कलेक्टर होशंगाबाद के निर्देश पर एसडीएम इटारसी द्वारा चिटफंड कंपनी जीएन डेयरी, जीएन गोल्ड एवं एनएनसीएल के निवेषकों की 16 करोड से ज्यादा राशि का खुलासा प्रारंभिक आंकलन से सामने आया है।
अधिवक्ता रमेश के साहू ने बताया कि छह दिन तक चले सत्यापन अभियान में राजस्व विभाग की कर्मठता, सजगता एवं सहयोग से अभिषेक गेहलोत के नेतृत्व में तहसीलदार एनके शर्मा तथा 4 पटवारी व 4 अन्य लिपिकों की टीम ने अब तक ऐसे पालिसी धारकों के दस्तावेज जमा कराये है जिनके द्वारा राशि जमा करने के बाद अब कंपनी पैसा नही लौटा रही है। साहू लॉ चेम्बर के 20 विशेष सहायक भी पीडि़त निवेशको की मदद के लिये आगे आये है। आरभिंक रूप से तीन हजार लोगों के पॉच करोड़ का ऑकलन बढ़कर 16 करोड हो गया है।
श्री साहू ने ऐसे निवेशक जिन्हे देरी से जानकारी हुई है जो दूर-दराज के ग्रामीण क्षेत्र से जानकारी के अभाव में दस्तावेज जमा नही करा पाये है उनके लिये एक दिन का विशेष शिविर लगाने का निवेदन एसडीएम महोदय इटारसी से किया है। सत्यापन के दौरान अन्य चिटफंड कंपनीयों की पालिसीयॉ लेकर भी पीडित निवेषक आये जिनकी छोटी छोटी राशि जमा है और अब कंपनी के ऑफिस मे ताला लगा है। निवेशकों के ऑकलन एवं सत्यापन के उपरांत अब सक्षम प्राधिकारी (कलेक्टर) होशंगाबाद के समक्ष आगामी कार्यवाही प्रारंभ होगी जिसके लिये 06 मार्च 2017 की तिथि नियत है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: