पंजाब, महाराष्ट्र और यूपी की टीमों ने जीते मैच

पंजाब, महाराष्ट्र और यूपी की टीमों ने जीते मैच

 हॉकी प्रतियोगिता का चौथा दिन
इटारसी। नगर पालिका परिषद के तत्वावधान में जिला हॉकी संघ द्वारा आयोजित अखिल भारतीय महात्मा गांधी स्मृति कप हॉकी प्रतियोगिता के चौथे दिन पंजाब, महाराष्ट्र और उत्तरप्रदेश की टीमों ने मैच जीतकर अगले दौर में प्रवेश किया। गर्मी के बावजूद बड़ी संख्या में हॉकी प्रेमी दर्शक मैच देखने पहुंच रहे हैं। आज से बड़ी टीमों के मैच प्रारंभ हुए हैं। कल से दानापुर, नागपुर, बीएसएफ की टीमों के मैच भी देखने को मिलेंगे।
आज पहला मैच डीएचए इटारसी और एसजीपीसी अमृतसर के बीच खेला गया। मैच के अंपायर रवि हरदुआ इटारसी और रमीज़ सिवनी थे। दोनों टीमों ने तेज हॉकी खेली। नौवे मिनट में अमृतसर के गुरबेज सिंघ ने पहला मैदानी गोल कर टीम को बढ़त दिलायी। इसके बाद 12 वे मिनट में मिले शार्ट कार्नर को राजविंदर ने गोल में बदला। मध्यांतर के बाद भी अमृतसर का पलड़ा भारी रहा। 32 वे मिनट में टीम ने तीसरा गोल किया। इटारसी की टीम ने बेहतर खेल दिखाते हुए तीन शार्ट कार्नर अर्जित किए लेकिन गोल में नहीं बदले जा सके। इस तरह अमृतसर ने यह मैच 3-0 से जीत लिया। दूसरा मैच महाराष्ट्र पुलिस और बायस क्लब सिवनी छपारा के बीच खेला गया।
इसमें निर्णायक प्रवीण यादव जबलपुर और अश्वनी कुमार कपूरथला थे। खेल के दसवे मिनट में महाराष्ट्र पुलिस के पृथ्वीराज ने पहला और 25 वे मिनट में सत्यजीत ने दूसरा गोल किया। इसके बाद 20 वे मिनट में सिवनी के शाहनबाज को मौको मिला और उसने गोल करके अंतर को कम किया। 21 वे मिनट में पुन: महाराष्ट्र पुलिस के सत्यजीत ने तीसरा गोल करके बढ़त 3-1 कर दी। मध्यांतर के बाद सिवनी ने अच्छे तालमेल से हॉकी खेलते हुए 33 और 34 वे मिनट में गोल कर बरावरी कर ली। फिर महाराष्ट्र पुलिस ने 39 वे मिनट में स्ट्रोल को गोल में बदलकर 4-3 कर दिया और 40 वे मिनट में 5 वा गोल किया और मैच 5-3 से महाराष्ट्र पुलिस ने जीत लिया।
तीसरा मैच ध्यानचंद अकादमी नागपुर और उत्तर रेलवे लखनऊ के बीच हुआ। मुख्य अतिथि पार्षद कुलदीप रावत, कुलदीप कौर, मंजू किशन मालवीय थे। नागपुर की टीम ने लखनऊ पर पहला गोल सातवे मिनट में मयंक जेम्स के पास पर अमित ने किया। दूसरे हाफ में इरशाद मिर्जा ने दूसरा और मयंक जेम्स ने तीसरा गोल कर नागपुर को 3-0 से जीत दिला दी। चौथा मैच एनसीआर झांसी और राजनांदगांव के बीच खेला गया। अंपायर असद सिवनी और प्रवीण यादव थे। झांसी को 23 वे मिनट में पहला शार्ट कार्नर मिला जिसे दीपक सिंग ने गोल में बदला। दूसरे हाफ में राजनांदगांव ने दबाव बनाया और तरुण रे 27 वे मिनट में गोल करके बराबरी कर ली। झांसी को 33 वे मिनट में पेनाल्ट्री स्ट्रोक मिला जिसमें दीपक सिंग ने फिर गोल में बदला। अंतिम समय में झांसी को एक और अवसर मिला जिसे गोल में बदला गया। झांसी ने मैच 3-1 से जीत लिया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: