परिवारों की दूरियां भी खत्म हुईं

परिवारों की दूरियां भी खत्म हुईं

इटारसी। लोक अदालत में सिर्फ सरकारी विभागों को ही राजस्व का फायदा नहीं पहुंचा है, बल्कि इसमें सामाजिक सरोकार से जुड़े मामले भी निराकृत हुए हैं। शनिवार को लोक अदालत में कुछ परिवारों के बीच कुछ वर्षों से बन गईं दूरियां भी खत्म हुई हैं तो उनकी नाराजी दूर कर राजीनामा भी कराया गया है। अधिवक्ता संघ के सचिव पारस जैन ने बताया कि उन्होंने ही ग्राम सोनांसावरी के दो भाई और दो बहनों के विवाद को हल कराने में सहयोग किया है। ये चारों अपने पैतृक मकान को लेकर एकदूसरे से नाराज थे। उनको समझाइश दी गई तो बहनें भाईयों के पक्ष में इस संपत्ति पर हक छोडऩे को नाराज हो गईं। भाईयों ने भी लिखित में दे दिया कि बहनें जब चाहें, जितने दिनों के लिए चाहें आकर अपने घर में रह सकती हैं।
इसी तरह से दो परिवार भी दूरियां खत्म करके एक हुए। ग्राम भट्टी के मुकेश और इटारसी की हेमलता में कुछ मनमुटाव हो गया था। दोनों अलग रह रहे थे। लोक अदालत के माध्यम से दोनों ने साथ रहना मंजूर किया और अपनी पांच वर्षीय बेटी के साथ खुशी-खुशी घर लौट गए। इसी तरह कांदईकलॉ के चंद्रशेखर और कविता भी अपनी एकदूसरे के प्रति नाराजी खत्म करके साथ रहने को राजी हो गए।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: