फिजि़कल साक्ष्य के सहारे पहुंचेंगे अपराधी तक

सुमति आई हत्या मामले में उठा नया कदम

सुमति आई हत्या मामले में कुछ नये कदम
इटारसी। श्री नवग्रह दुर्गा मंदिर के पास ईदगाह मोहल्ला में रहने वाली बुजुर्ग महिला सुमति आई की हत्या हुए 19 दिन बीत चुके हैं और पुलिस के हाथ अब तक आरोपियों तक नहीं पहुंचना तो दूर सुराग तक नहीं लग सके हैं। दर्जनों लोगों से पूछताछ, सीसीटीवी कैमरों के फुटेज़ देखने के बाद बावजूद पुलिस कुछ खास हासिल नहीं कर सकी है। अब पुलिस ने फोरेंसिक जांच का सहारा लिया है। देखना है, इसमें पुलिस कहां तक सफल हो पाती है।
रीज़नल फोरेंसिक डायरेक्टर डॉ. हर्ष शर्मा ने आज दोपहर सुमति आई के घर जाकर जांच की। उन्होंने कुछ फिजिकल साक्ष्य एकत्र किए हैं। डॉ. शर्मा के अनुसार जांच में करीब एक सप्ताह का वक्त लग सकता है। जांच के बाद निकलने वाले नतीजों पर निर्भर करेगा कि जांच किस दिशा में जानी है, उनके अनुसार फिलहाल कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। जांच के दौरान घटना स्थल तक डॉ. हर्ष शर्मा के साथ एडिशनल एसपी शशांक गर्ग और टीआई भूपेन्द्र सिंह मौर्य भी गए थे. इसके अलावा किसी को भी घटनास्थल तक जाने नहीं दिया गया।
गौरतलब है कि विगत 10 जनवरी को नवग्रह मंदिर के पास रहने वाली सुमति पत्नी गोपालशंकर कुलकर्णी 80 वर्ष की हत्या कर दी गई थी। पुलिस की जांच में अब तक कुछ खास हाथ नहीं लगा है। पुलिस ने दर्जनों लोगों के बयान लिए, मकान मालिक के बयान भी ले लिए, सुमति आई के साथ भजन गाने वाली महिलाओं से भी बयान ले लिए, सीसीटीवी कैमरे के फुटेज भी देख लिए, बावजूद इसके अभी कुछ खास हाथ नहीं लगा है। घटना स्थल के पास सबकुछ व्यवस्थित होने से माना जा रहा है कि हत्यारा कोई परिचित हो सकता है। घटना के आरोपी तक पहुंचने के लिए पुलिस ने ईनाम भी घोषित किया है और श्री नवग्रह मंदिर समिति ने भी अपनी तरफ से ईनाम की घोषणा की है। पुलिस के लिए मामला चुनौतीपूर्ण बन गया है जबकि आसपास के रहने वालों और शहर के लिए यह एक पहेली बना हुआ है. अब पुलिस फोरेंसिक जांच की रिपोर्ट के आधार पर आरोपी तक पहुंचने का प्रयास करेगी।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: