बिजली दफ्तर के गेट पर चढ़कर लगाए नारे

दर वृद्धि और अघोषित बिजली कटौती पर युकां के तीखे तेवर, डीई को दिया ज्ञापन

दर वृद्धि और अघोषित बिजली कटौती पर युकां के तीखे तेवर, डीई को दिया ज्ञापन
इटारसी। बिजली की बढ़ी हुई दरों और ग्रामीण क्षेत्र में हो रही अघोषित बिजली कटौती पर युवक कांग्रेस ने आज तीख़्ो तेवर दिखाए। युकां के आह्वान पर आज संगठन के कार्यकर्ताओं के साथ ही नगर कांग्रेस और पार्टी के वरिष्ठ नेता भी आंदेालन में शामिल हुए। कांग्रेसियों ने बिजली की दर में वृद्धि और अघोषित कटौती से हो रही परेशानी से बिजली अधिकारियों को अवगत कराते हुए राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन डीई को सौंपा।
पूर्व मंत्री विजय दुबे काकूभाई, सेवादल के प्रदेश संयोजक मोहन झलिया, जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्ष माधवी मिश्रा, नगर अध्यक्ष सीमा भदौरिया, राजकुमार उपाध्याय केलू, अर्जुन भोला, अमोल उपाध्याय, मयूर जैसवाल, प्रतीक मालवीय, पूर्व नपाध्यक्ष अनिल अवस्थी, मधुसूदन यादव समेत दर्जनों कांग्रेसी आज सुबह पीपल मोहल्ला स्थित बिजली दफ़्तर पहुंचे और नारेबाजी की। युवक कांग्रेस के कार्यकर्ता तो कार्यालय का गेट लगा देखकर इतने उत्तेजित हो गए कि गेट पर चढ़कर नारेबाजी करने लगे। हालांकि बाद में विभाग के अधिकारियों ने गेट खुलवाया और डीई समीर शर्मा ने कांग्रेसियों से ज्ञापन लिया।
it170417 (2)ये मांगें हैं ज्ञापन में
कांग्रेस ने ज्ञापन में कहा कि बिजली की बढ़ी हुई दरें वापस ली जाएं, सरकार ने निजी बिजली कंपनियों से 20 वर्षों का करार किया है वह प्रदेश की जनता से छलावा है, इसे निरस्त किया जाए, ग्रामीण क्षेत्रों में अघोषित बिजली कटौती बंद की जाए, किसानों को कृषि कार्य के लिए पर्याप्त मात्रा में बिजली दी जाए, जो आंकलित खपत दी जाती है, उसकी जांच हो, सर्विस टैक्स के मुताबिक सेवा मिले, बीपीएल कार्डधारियों का बिल समय अवधि में वृद्धि हो, उनका कनेक्शन न काटें, कृषि कार्य हेतु लागू नयी दरें कम की जाएं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: