मीठा बोलने वाले पक्षी के बच्चे जब्त, तस्कर पकड़े

इटारसी। आरपीएफ ने बिक्री के लिए प्रतिबंधित तोतों को ट्रेन से तस्करी करके ले जाते हुए दो युवकों को पकड़ा है। बताया जाता है कि ये युवक इन तोतों को हरदा से भोपाल के बाज़ार में बेचने ले जा रहे थे। बोलने वाले इस पक्षी के करीब 65 बच्चे आरपीएफ ने इन युवकों से जब्त किए हैं जो दो थैले में थे।
बता दें कि प्रतिबंध के बावजूद हजारों तोते क्षेत्र के हाट-बाजारों में खुले आम बिक रहे हैं। एक-एक तोते के बच्चे को 4 से 5 सौ रुपए तक में बेचा जा रहा है। लेकिन खुले आम तोता बेचने वाले ग्रामीणों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।
राजधानी के हाट-बाजारों में इन दिनों बड़ी संख्या में तोते के बच्चे बेचने ले जाए रहे हैं। इन्हें 4-5 सौ रुपए में बेचा जा रहा है। तोते वन्य प्राणी की श्रेणी में आते हैं, इसलिए इन्हें पकड़ कर बेचना वन्य प्राणी सुरक्षा अधिनियम के तहत दण्डनीय अपराध है। बावजूद इसके हाट-बाजारों में तोता बेचने वाले लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: