मॉडल स्टेशन के रूप में विकसित हो जंक्शन

मॉडल स्टेशन के रूप में विकसित हो जंक्शन

जीएम के साथ बैठक में सांसद की तरफ से पहुंची मांग
इटारसी। प्रदेश का प्रमुख रेल जंक्शन मॉडल रेलवे स्टेशन के तौर पर विकसित किया जाए। स्वच्छ भारत अभियान के तहत इटारसी जंक्शन को जिले का मॉडल रेलवे स्टेशन बनाने यहां की इमारतों पर आकर्षक लाइटिंग हो, दीवारों पर भारत और क्षेत्रीय संस्कृति की झलक दिखाती हुई पेटिंग हो, इसके लिए स्कूलों, कॉलेजों के बच्चों की मदद भी ले सकती है। इसके अलावा यहां ग्रीनरी विकसित करते हुए, कुछ फाउंटेन लगाए जाएं, जिससे देशभर से आने वाले यात्रियों के सामने रेलवे की छवि अच्छी दिखे।
यह मांग, सांसद राव उदयप्रताप सिंह की ओर से उनके प्रतिनिधि राजा तिवारी ने भोपाल में हुई जीएम के साथ बैठक में रखी। पश्चिम मध्य रेल के भोपाल मंडल परिक्षेत्र से संबंधित लोकसभा एवं राज्यसभा के संसद सदस्यों के साथ एक उच्चस्तरीय आज होटल लेक व्यू अशोका, भोपाल में हुई जिसमें बैठक में सांसद की ओर से उनके प्रतिनिधि राजा तिवारी बैठक में शामिल हुए। बैठक में सांसद की ओर से श्री तिवारी ने कहा कि जोन के सबसे बड़े जंक्शन पर सफाई को लेकर कोई काम नहीं दिखता। मुख्य गेट पर ही गंदगी यात्रियों का स्वागत करती है, खुले में यूरिनल करते हुए लोगों कोई रोकता टोंकता नही। गंदा पानी जमा रहता है।
यह मांग रखी गई बैठक में
* इटारसी से एक लंबी दूरी की एक्सप्रेस ट्रेन चलाने की मांग लंबे समय से की जा रही है। तकनीकी रूप से ट्रेन चलाने में कोई दिक्कत भी नहीं होगी, क्योंकि यहां ट्रेन मेंटनेस के लिए वासिंग साइडिंग भी 22 कोच लंबी हो रही है। इस बजट में इटारसी से इटारसी से पुणे और इटारसी से हावड़ा एक साप्ताहिक ट्रेन चलाई जाए।

* जंक्शन पर आम नागरिकों को शुद्ध पेयजल मिल सके, इसके लिए यहां आरओ सिस्टम लगाएं, जिससे एक रुपए लीटर पानी जनता को मिल सके।

* इटारसी में ट्रेन से गिरकर मौत होने की संख्या अधिक है, अभी जीआरपी थाने के पास लावारिश शव अमानवीय तरीके से खुले में रखे रहते हैं। यहां वातानुकूलित शवग्रह बनाया जाए।

* जंक्शन पर अवैध वेंडर बड़ी समस्या हैं। अब इनमें गैंगवार होने लगी है। इन्हें तत्काल रोका जाए।

* यात्रियों की सुरक्षा के लिए लाखों रुपए खर्च कर 72 सीसीटीवी कैमरा स्टेशन पर लगाए हैं, लेकिन कोई बड़ा काम इनसें आरपीएफ अब तक नहीं कर पाई है। अभी लिफ्ट प्रारंभ होने से लगेज स्केन भी बायपास हो गया है।

* रेलवे स्टेशन से न्यू यार्ड रोड पर ग्वाल बाबा तक करीब एक करोड़ रुपए की सीसी सड़क स्वीकृत हुई थी, ये अभी अधूरी बनी है। गंभीर बात ये है कि ये अभी से उखड़ गई।

* दिव्यांगों के लिए जंक्शन पर एक्सलरेटर लगाया जाए, इसकी घोषणा हो चुकी है।

* जंक्शन पर बीमार यात्री बड़ी संख्या में उतरते हैं, अस्पताल जाने से इनकी ट्रेन मिस हो जाती है। इसलिए जंक्शन पर ही मेडिकल और एक डाक्टर की तैनाती की जाए।

भोपाल, हबीबगंज, होशंगाबाद, हरदा के लिए एक पैसेंजर ट्रेन चलाई जाए। इस रूट पर रोजाना 5 हजार से अधिक यात्री सफर करते हैं।

* होशंगाबाद संभागीय मुख्यालय के स्टेशन होशंगाबाद पर पुष्पक और गोंडवाना ट्रेन के स्टॉपेज की मांग है, इन ट्रेनों का यहां हाल्ट किया जाए।

* इटारसी जंक्शन को वाईफाई स्टेशन किया जाए, जिससे यहां से गुजरने वाले और आने वाले यात्रियों को इंटरनेट की सुविधा मिल सके।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: