रेस्ट के बावजूद क्यों दफ्तर जाना पड़ा रेल अधिकारियों को

इटारसी। रविवार को रेलवे के रिजर्वेशन सुपरवायजर और कमर्शियल विभाग के अन्य अफसरों का रेस्ट होता है, बावजूद इसके उनको अचानक अपने दफ्तर जाना पड़ा। वजह थी अचानक रिजर्वेशन सिस्टम का ठप हो जाना। मुख्य रिवर्जेशन सुपरवायजर बीएल कैथवास ने बताया कि सूचना मिली तो सीधे दफ्तर पहुंचे और टेलीकॉम विभाग के तकनीकि अमले को बलाया गया। यहां से पूरी जांच की और फिर पता चला कि मुंबई से ही पूरा सिस्टम फेल हो गया। करीब पचास मिनट सिस्टम बंद रहा था।
सुबह अचानक रेलवे के रिजर्वेशन सिस्टम में आयी खराबी के बाद लोगों को लंबे समय तक कतार में खड़े रहना पड़ा। सूत्रों के अनुसार सुबह रेलवे में रिजर्वेशन कराने पहुंचे यात्रियों को लगभग एक घंटे लाइन में खड़े रहकर सर्वर ठीक होने का इंतजार करना पड़ा। इस दौरान पूरा सिस्टम ठप हो गया था। श्री कैथवास के मुताबिक सुबह करीब सवा 11 बजे से दोपहर 12.05 बजे तक रेलवे का पीआरएस (पैसेंजर रिजर्वेशन सविस) सिस्टम ठप रहा। इसके बाद भोपाल मंडल के भोपाल, इटारसी, गुना, होशंगाबाद, हरदा, बानापुर आदि में रिजर्वेशन टिकट नहीं बन सके और लोगों को एक घंटे तक कतार में खड़े रहना पड़ा।
डीसीआई एमएल परते ने यह पूरे मंडल में हुआ है। मुंबई से ही कोई खराबी आ गयी थी जिससे पीआरएस सिस्टम ठीक से काम नहीं कर रहा था। करीब पचास मिनट बाद रेलवे का सर्वर ठीक हुआ तो रिजर्वेशन टिकटें बनाई गई।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: