विधायक ने दी, शराबबंदी पर सोनासांवरी फार्मूले की सलाह

विधायक ने दी, शराबबंदी पर सोनासांवरी फार्मूले की सलाह

इटारसी।सोहागपुर विधायक ठाकुर विजयपाल सिंह ने ग्राम चांदौन के निवासियों को शराब बंदी के मामले में सोनासांवरी फार्मूले की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि जैसे सोनासांवरी के लोगों ने एकजुटता दिखाते हुए ग्रामसभा में प्रस्ताव पारित किया, वैसे ही चांदौन के लोगों को भी ग्रामसभा का आयोजन कर शराब दुकान पंचायत सीमा से बाहर करने के लिए प्रस्ताव पारित कर प्रशासन को सौंपना चाहिए।
उल्लेखनीय है कि ग्राम चांदौन की महिलाएं और पुरुष भी पिछले करीब एक माह से शराब दुकान के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। यहां शराब दुकानदार की कथित गुंडागर्दी की भी शिकायत है। यहां की महिलाएं विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा और एसडीएम अभिषेक गेहलोत को भी ज्ञापन दे चुकी हैं। इसके अलावा शराब ठेकेदार पर मारपीट की शिकायत कर पथरोटा थाने में भी आवेदन दिया है। इतना सबके बावजूद अब तक उनको संतोषजनक कार्रवाई होती नहीं दिखी। सोहागपुर विधानसभा के अंतर्गत आने वाले इस ग्राम के लोगों ने अंतत: अपने विधायक तक अपनी बात पहुंचायी तो वे आज दोपहर में ग्रामीणों से मिलने चांदौन पहुंचे थे। ग्राम चांदौन के डेढ़ दर्जन से अधिक महिला एवं पुरुषों ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अभिषेक गेहलोत को ज्ञापन सौंपकर शिकायत की है कि ग्राम में स्थित शराब दुकान का संचालक आए दिन ग्रामीणों से मारपीट करता है और शिकायत करने पर धमकी देता है। पिछले दिनों उसकी शिकायत पथरोटा थाने में की गई थी, जिस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।
ग्राम चांदौन में विश्व भारतीय स्कूल के समीप रहने वालों ने कहा कि बीच गांव में शराब दुकान संचालित होने से छोटे बच्चों और महिलाओं पर बुरा असर पड़ रहा है। हमने जब इसका विरोध किया तो दुकान संचालक हमें धमकाने लगा। वह आए दिन आकर मारपीट करता है। इसकी शिकायत पथरोटा थाने में की गई तो भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। अब हमें जान से मारने की धमकी दी जा रही है। ग्रामीणों ने कहा कि वह अब भी धमका रहा है। सरपंच रेखा उईके का कहना है कि वे मजदूरी करते हैं। गांव में शराब की दुकान होने से पुरुषों पर बुरा असर पड़ रहा है। वे शराब पीने के लिए हमसे रुपए छीन लेते हैं जिससे हमारे सामने परिवार चलाने का संकट आ जाता है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: