विशेष बच्चों की पहचान कुछ लक्षणों से

बीएड छात्रों का प्रशिक्षण

बीएड छात्रों का प्रशिक्षण
इटारसी। जनप्रयास एवं जनशिक्षण संस्था द्वारा संचालित कोशिश विशेष विद्यालय में बी एड ( चतुर्थ सेमिस्टर) पाठ्यक्रम के तहत विशेष बच्चों की पहचान की आवश्यकता और समावेशी विद्यालयों में उनके शिक्षण के लिए एक माह के प्रशिक्षण का समापन एक दिवसीय कार्यशाला के साथ हुआ। प्रशिक्षण कार्यशाला में एचएल अग्रवाल महाविद्यालय के बीएड पाठ्यक्रम की छात्र छात्राओं ने हिस्सा लिया।
विषय विशेषज्ञ एवं स्कूल संचालिका श्रीमती अचला मिश्र ने बताया कि कुछ लक्षणों से शिशु अवस्था में विशेष बच्चों को पहचाना जा सकता है। उसमें सुधार का प्रयास कर जिसे शीघ्र हस्तक्षेप कहा जाता है उसकी कमियां में काफी हद तक सुधार लाकर उसका सही विकास किया जा सकता है । श्रीमती मिश्र ने विशेष बच्चों को सामान्य बच्चों के साथ शिक्षित प्रशिक्षित किये जाने के तरीकों की विस्तार से जानकारी दी। कार्यशाला में प्रशिक्षणार्थियों छात्रों ने विशेष बच्चों के साथ अपने एक माह के अनुभवों को भी साझा किया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: