होली के हुड़दंग पर चलेगा पाबंदी का डंडा

होली और रंग पंचमी पर पर नपा शहर में दोनों वक्त पानी देगी विद्युत की व्यवस्था सुचारू बनी रहे, इसका ख्याल बिजली कंपनी रखेगी होली के लिए लकड़ी रियायती दर पर बांस डिपो से वन विभाग देगा

ये निर्णय भी हुए
होली और रंग पंचमी पर पर नपा शहर में दोनों वक्त पानी देगी
विद्युत की व्यवस्था सुचारू बनी रहे, इसका ख्याल बिजली कंपनी रखेगी
होली के लिए लकड़ी रियायती दर पर बांस डिपो से वन विभाग देगा
इटारसी। होली का पर्व बोर्ड परीक्षाओं के साथ चलने के कारण प्रशासन कोई रियायत देने के मूड में नहीं लगता है। प्रशासन का कहना है कि आप होली में खूब हुड़दंग करें, लेकिन डीजे और लाउट स्पीकर से शोरगुल नहीं चलेगा। इसमें सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन का सख़्ती से पालन कराया जाएगा। 80 डेसीबल से अधिक शोर होने पर कानूनी पेंच में भी आप फंस सकते हैं। कुल जमा, होली तो खेली जाएगी लेकिन शांतिपूर्ण और बिना शोरगुल के।
यह हिदायत, आज शाम यहां थाना परिसर में हुई शांति समिति की बैठक में दी गई। एसडीएम अभिषेक गेहलोत ने कहा कि प्रशासन शहर में केमिकल युक्त रंग न बेचे जाएं, इस पर नज़र रखेगा। यह देखा जाएगा कि किन रंगों पर प्रतिबंध हैं। उन्होंने कहा कि शोरगुल पर सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन का पालन करना होगा। रात 10 बजे के बाद शोरगुल नहीं चलेगा। यदि हुआ तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं, इसलिए इसका खास ख्याल रखा जाए। शराब की अवैध बिक्री पर सख़्त निगाहें रहेंगी और पुलिस तथा आबकारी विभाग को इनके खिलाफ लगातार कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
बैठक में सीएमओ सुरेश दुबे, नायब तहसीलदार कदीर खान, भाजपा नगर अध्यक्ष डॉ. नीरज जैन, कांग्रेस नगर अध्यक्ष पंकज राठौर, नपा उपाध्यक्ष अरुण चौधरी, विहिप से गोपाल सोनी, बजरंग दल से अभिजीत यादव, हिन्दू महासभा से कन्हैया लाल रैकवार, सांसद प्रतिनिधि दीपक अग्रवाल, सोनू दीक्षित, जिला भाजयुमो अध्यक्ष कुलदीप रावत, जिला भाजपा उपाध्यक्ष संदेश पुरोहित, सभापति राकेश जाधव, जसबीर सिंघ छाबड़ा, मसीह समाज से जयराज सिंह भानू, मुस्लिम समाज से मुस्तफा खान, जमील खान के अलावा पंडित प्रभात शर्मा व समिति के अनेक सदस्य मौजूद थे. संचालन जयकिशोर चौधरी ने व आभार प्रदर्शन टीआई भूपेन्द्र सिंह मौर्य ने किया।
कंडे का उपयोग करें तो बेहतर
एसडीएम ने अपने उद्बोधन में कहा कि वन विभाग के डिपो से रियायती दरों पर होली के लिए लकडिय़ां उपलब्ध रहेंगी, लेकिन होलिका उत्सव समिति के सदस्य यदि कंडों की होली जलाएंगे तो इससे न सिर्फ पर्यावरण को कम नुकसान होगा बल्कि गौवंश की महत्ता भी प्रतिपादित होगी। इससे गौ पालकों को भी फायद होगा। उन्होंने कहा कि समितियां प्रयास करें कि वे होलिका दहन में कम से कम लकडिय़ों और अधिक से अधिक गोबर के कंडों का प्रयोग करें. उन्होंने होली को सद्भाव से मनाने का अनुरोध किया।
छेड़छाड़ की प्रवृत्ति से बचें
आईएएस अधिकारी और तहसीलदार संस्कृति जैन ने इस अवसर पर कहा कि होली जैसे पर्व में शराब आदि के नशे में महिलाओं से छेड़छाड़ की घटनाएं अधिक हो जाती हैं। होली का पर्व तो मनाएं लेकिन इस तरह की घटनाओं से बचें, अन्यथा यह त्योहार में खलल डालने जैसा तो होगा, प्रशासन को कड़ी कार्रवाई करनी होगी। उन्होंने उपस्थित लोगों से आग्रह किया कि वे छोटे झगड़े आदि तो अपने स्तर पर निबटा लें, लेकिन छेड़छाड़ जैसी घटनाओं को दबाएं नहीं बल्कि पुलिस की जानकारी में अवश्य लाएं।
इस तरह की होगी व्यवस्था
अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अनिल शर्मा ने बताया कि होली के लिए पुलिस की व्यवस्था काफी मजबूत रहेगी। तीन स्तर पर व्यवस्था रहेगी जिसमें अभी से प्रतिबंधात्मक कार्रवाई शुरु की जाएगी और तीन से अधिक अपराध वालों को पकड़कर सलाखों के पीछे लाया जाएगा। जिन रिकार्डशुदा के तीन वर्ष से अधिक समय से अपराध नहीं पाए जाएंगे उनसे अवश्य रियायत बरती जा सकती है। पिछले वर्ष किसी ने अपराध किया है, वह भी नहीं बचेगा। अवैध शराब और अवैध हथियारों के खिलाफ अभियान चलेगा।
रंगपंचमी पर रहेगी खास नज़र
इस वर्ष रंग पंचमी का पर्व शुक्रवार के दिन है। पुलिस ने हिन्दु और मुस्लिम समाज के सदस्यों से इस दिन खास सहयोग मांगा है। एसडीओपी अनिल शर्मा ने कहा कि इस दिन प्रयास किया जाए कि जब जुमे की नमाज़ का वक्त हो, वहां से होली के जुलूस न निकलें। यदि निकलें तो शांतिपूर्ण ढंग से चले और सद्भाव का वातावरण बना रहे। उन्होंने कहा कि रंगपंचमी पर शहर की मस्जिदों के आसपास पुलिस बल तैनात रहेगा और दोनों समुदाय के लोग शांति व्यवस्था बनाएं रखने जिम्मेदारी का परिचय देंगे, ऐसी उम्मीद है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: