होली पर रहा फीका रहा माहौल, बाइक पर घूमे हुरियारे

होली पर रहा फीका रहा माहौल, बाइक पर घूमे हुरियारे

मस्ती की जगह दिखी सुस्ती, रंग कम गुलाल अधिक उड़ा
इटारसी। होली की सस्ती मस्ती की जगह इस बार सुस्ती का माहौल रहा। सुबह से शाम तक होली उत्सव में रंग तो कहीं-कहीं उड़ा, गुलाल ही अधिक दिखा। हालांकि वह भी कम ही जगह। कुछ युवाओं ने अपनी ही टोली में सूखे रंग और गुलाल से होली खेलकर पर्व की परंपरा निभायी।
कभी सुबह से दोपहर बाद तक रंगों की बौछार से सरोबार होने वाली शहर की सड़कों पर बाइकर्स युवा एक बाइक पर तीन सवारी दिखे और रंग की जगह गुलाब से मुंह पुता हुआ था। फिल्मी होली गीतों पर भांग के नशे में मदमस्त टोलियां मानो बीते जमाने की बात हो गईं हैं। इस वर्ष की होली से यही अंदाजा लगा। अलबत्ता कुछ बच्चों के हाथों में पिचकारी अवश्य दिखीं। लेकिन, यहां भी बच्चों की संख्या इतनी कम थी, कि देखकर एक बारगी तो लगा कि अब बच्चों को भी हुड़दंग पसंद नहीं है, वे भी शालीनता पसंद हो गये हैं। होली पर्व के फीकेपन को लेकर कई कयास लगाये जा रहे हैं। दरअसल, मप्र में बदलते राजनीतिक घटनाक्रम पर नजरें रखे हुए लोग होली खेलने बाहर नहीं निकले और सारा दिन टेलीविजन पर नजरें लगी रहीं। एक कारण यह भी माना जा रहा है कि कोरोना वायरस का खौफ इस बार होली पर्व के फीकेपन का कारण रहा। होली पर बिकने वाले रंगों का बड़ा हिस्सा चाइना से आता है, लोगों के मन में बीते दो माह से यह भय बना दिया था कि चाइनीज रंगों से होली न खेली जाए, अन्यथा कोरोना हो सकता है, इस डर ने भी लोगों को रंगों से दूर कर दिया था। कई लोगों ने केवल गुलाल से तिलक होली खेलकर पर्व की परंपरा निभायी है। कोरोना वायरस को लेकर डर का माहौल बना है। होली का त्यौहार भी इससे अछूता नहीं रहा है। कोरोना वायरस का सीधा असर होली पर होने वाले व्यापार पर भी पड़ा है। होली पर लगे रंगों के बाजार में भी ग्राहकी अन्य वर्षों की अपेक्षा काफी कम रही।

बाजार में दुकानें खुली रहीं
पिछले एक दशक पूर्व तक होली के दिन के बाजार को याद किया जाए तो पता चलता है कि होली के दिन पान, गुटखा और चाय-नाश्ते को लोग तरस जाया करते थे। पिछले कुछ वर्षों से होली के दिन पान-गुटखा या चाय की दुकानें तो खुलने लगीं थीं। लेकिन, उनकी संख्या कम होती थी। इस वर्ष की होली में जयस्तंभ चौक के आसपास की कई बड़ी चाय-नाश्ते की दुकानें, पान की दुकानें, मिठाई की दुकानें खुली रहीं और बाजार में इन दुकानों पर ग्राहकी भी रही।


पंचायत सचिवों ने दी कलेक्टर को शुभकामनाएं
होशंगाबाद में आज होली के शुभ अवसर पर पंचायत सचिव संगठन के पदाधिकारियों ने कलेक्टर धनंजय सिंह भदौरिया को उनके निवास पर जाकर गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर पंचायत सचिव संगठन के प्रदेश महामंत्री नरेन्द्र सिंह राजपूत के साथ सचिव संगठन होशंगाबाद के जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र तोमर, होशंगाबाद ब्लॉक अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह चौहान, हरगोविंद यादव सचिव, ओमप्रकाश भदौरिया सचिव उपस्थित रहे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: