1 अरब 18 लाख रुपए का बजट, 66 हजार आय रहेगी

1 अरब 18 लाख रुपए का बजट, 66 हजार आय रहेगी

प्रेसीडेंट इन कौंसिल ने दी नगर पालिका के बजट को मंजूरी
इटारसी। नगर पालिका की अध्यक्षीय परिषद ने इस वर्ष के बजट को मंजूरी दे दी है। इस वर्ष 1 अरब 18 करोड़ रुपए की आय का बजट पेश किया जाएगा जिसमें 66 हजार रुपए की आय का अनुमान है। आज शाम नगर पालिका कार्यालय में हुई अध्यक्षीय परिषद की बैठक में बजट को मंजूरी दे दी गई। इसके साथ ही पिछले कुछ दिनों से चल रहे एनयूएलएम योजना में गड़बड़ी की शिकायतों को देखते हुए नगर पालिका उपाध्यक्ष अरुण चौधरी की अध्यक्षता में एक जांच कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी बीस दिन में जांच कर अध्यक्ष को रिपोर्ट करेगी।
अध्यक्षीय परिषद की बैठक में उनकी केबिनेट ने नगर विकास को प्राथमिकता देते हुए बजट में राशि का प्रावधान किया है। शहर के विकास के लिए 1 अरब 18 करोड़ रुपए रखे गए हैं। इससे सड़क, बस स्टैंड का निर्माण, तालाब का सौंदर्यीकरण, पार्कों का रख-रखाव के अलावा शहर में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम और खेल गतिविधियों के लिए भी राशि का प्रावधान किया गया है।
एक नज़र प्रस्तावों पर
सड़क और बस स्टैंड के निर्माण के लिए 13 करोड़
बीओटी काम्पलेक्स के लिए 13 करोड़ का प्रस्ताव
आडिटोरियम के निर्माण और विकास के लिए 1.5 करोड़
तालाब सौंदर्यीकरण के लिए 2 करोड़ रपए
पार्क के रख-रखाव के लिए 50 लाख रुपए का प्रावधान
सांस्कृतिक कार्यक्रमों, रामलीला दशहरा आदि-50 लाख
हॉकी के लिए 6 लाख, अन्य खेलों के लिए 5 लाख

एनयूएलएम की जांच के लिए कमेटी
राष्ट्रीय आजीविका मिशन में गड़बड़ी की मिल रही शिकायतों पर नगर पालिका अध्यक्ष ने एक जांच कमेटी बनायी है। यह कमेटी नगर पालिका उपाध्यक्ष अरुण चौधरी की अध्यक्षता में पूरे मामले की जांच करके बीस दिन में रिपोर्ट पेश करेगी। कमेटी में स्वास्थ्य समिति सभापति यज्ञदत्त गौर, लोक निर्माण समिति सभापति भरत वर्मा, जलकार्य समिति सभापति श्रीमती भागेश्वरी रावत और पार्षद अरविंद चंद्रवंशी शामिल किए हैं।
विकास की समीक्षा होगी
तालाब में चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा के लिए कार्यपालन यंत्री की देखरेख में काम होगा। तालाब में अब तक हुए निर्माण कार्य की समीक्षा करके 30 अप्रैल तक कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए गए हैं। इसी तरह से जल आवर्धन योजना में हुई देरी और काम को और गति प्रदान करने के निर्देश सहित ठेकेदार को निर्देशित किया गया है कि वे जल्द से जल्द काम पूर्ण करके 30 अप्रैल तक शहर को पानी देना शुरु करे।
इनका कहना है…!
पीआईसी की आज हुई बैठक में बजट को स्वीकृति दी गई है। शहर के विकास के लिए बजट में प्राथमिकता देते हुए करोड़ों रुपए की राशि का प्रावधान किया है। इस वर्ष का बजट करीब सवा करोड़ रुपए का है। जिसमें 66 हजार रुपए लाभ का अनुमान है।
सुरेश दुबे, सीएमओ

बजट में विकास को प्राथमिकता दी गई है और पिछले दिनों से मिल रही एनयूएलएम में गड़बड़ी की शिकायत की जांच करने के लिए एक समिति का गठन किया है। समिति बीस दिन में जांच रिपोर्ट देगी। गड़बड़ी में शामिल किसी भी अधिकारी को बख्शा नहीं जाएगा।
श्रीमती सुधा राजेन्द्र अग्रवाल, अध्यक्ष नपा

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: