चौबीस घंटे से अधिक समय नहीं मिली केसला को बिजली

चौबीस घंटे से अधिक समय नहीं मिली केसला को बिजली

केसला। ब्लॉक के कई गांवों को एक बड़े फाल्ट (Electricity fault) के कारण चौबीस घंटे से भी अधिक समय बिजली (Electricity) नहीं मिली और वे परेशान रहे। गुरुवार को केसला फीडर (Kesla feeder) में फाल्ट आने के बाद दोपहर बाद गुल हुई बिजली शुक्रवार की शाम को ही आयी। चौबीस घंटे से भी अधिक समय तक बिजली नहीं होने से न सिर्फ यहां के नागरिक परेशान रहे बल्कि बिजली विभाग के कर्मचारियों को भी फाल्ट ठीक करने में घंटों का वक्त लग गया।
डीईई विवेक चावरे (DEE Vivek Chavre) का कहना है कि आंधी-पानी की वजह से केसला फीडर फाल्ट हुआ था। इसके बाद सब स्टेशन की बैटरी चार्जर जल गया। इन व्यवस्थाओं को सुचारू करने में वक्त लगा और इसके बाद सीटी फेल हो गयी। किसी तरह से ताकू से केसला को चालू किया और फिर ब्लॉक फीडर को चालू करके व्यवस्था बनायी है। उन्होंने बताया कि चौकीपुरा फीडर भी चालू हो गया है।

जंगल में पेड़ गिरे
केसला के लिए पथरोटा 220 केव्ही स्टेशन (Pathrota 220 KV Station) से विद्युत सप्लाई जाती है। यहां से लाइन जंगलों, पहाड़ों से होकर गुजरी है। आंधी के कारण एक बांस के पेड़ से लाइन में फाल्ट आने के कारण बिजली गयी। चूंकि लगातार बारिश हो रही थी और अंधेरा था। जंगल में जोखिम भरा रास्ता और जंगल जानवरों के डर से कर्मचारी पहुंच नहीं पाते हैं। दिन के वक्त भी आठ-दस कर्मचारी एकसाथ जाते हैं, तभी काम हो पाता है।

लोगों में डर का माहौल
सुबह 10 बजे से बिना सूचना के ग्रामीण क्षेत्र की विद्युत सप्लाई टोटल बंद रही। 1 से 2 घंटे की बारिश के बाद ग्रामीणों ने आस लगाए कि मौसम ठंडा हुआ, घरों में उमस बढ़ी, अब लाइट आएगी गर्मी से राहत मिलेगी, जानकारी लेने के बाद पता चला कि रात भर लाइट नहीं आएगी। सब उम्मीदों पर लाइट ना आने से लोगों की चैन की नींद उड़ गई। लोगों में डर का माहौल बना हुआ रहा कि कहीं सांप आदि जहरीले जीव रात के अंधेरे में घर में ना आ जाएं?

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: