मुख्यमंत्री ने माखननगर में कहा, मप्र का गेहूं विदेशों में निर्यात होगा

मुख्यमंत्री ने माखननगर में कहा, मप्र का गेहूं विदेशों में निर्यात होगा

– कुपोषण मिटाने के लिए भी सभी मिलकर सहयोगी बने
– माखन दादा की नगरी में ऑडिटोरियम व लाइब्रेरी बनेगा
– पद्मश्री पत्रकार विजय दत्त श्रीधर ने मुख्यमंत्री का माना आभार
नर्मदापुरम। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि हमारे गांव व नगर के विकास के लिये हर नागरिक को संकल्प लेना होगा। सभी को विकास में भागीदारी करनी होगी। राष्ट्रकवि दादा माखनलाल चतुर्वेदी (National Poet Dada Makhanlal Chaturvedi) एक भारतीय आत्मा थे, उन्होंने इस माटी की सुगंध को पूरी दुनिया में फैलाया है उनके जन्मदिवस को गौरव दिवस के रूप में मना रहे हैं। ऐसा ही गौरव दिवस हर शहर व गांव में मनाया जाए। गौरव दिवस की परिकल्पना है, अपने गांव व शहर के विकास में सब जुट जाएं। यह सिर्फ सरकारी काम नहीं है। अपना सबका काम है विकास की ओर बढऩा है। एक नए मप्र को गढऩा है।श्री चौहान ने माखनगर (Makhnagar) में आयोजित गौरव दिवस कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश के विकास मैं कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सबको मिलकर जल संरक्षण, बिजली बचाने के अभियान में भी कार्य करना है। इस अवसर पर प्रभारी मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, सांसद उदय प्रताप सिंह, नर्मदापुरम (Narmadapuram) विधायक डॉ सीतासरन शर्मा, सोहागपुर विधायक विजयपाल सिंह, सिवनी मालवा विधायक प्रेम शंकर वर्मा, पिपरिया विधायक ठाकुर दास नागवंशी, सामान्य वर्ग आयोग के अध्यक्ष शिव चौबे, पूर्व निगम अध्यक्ष राजेंद्र सिंह, पूर्व मंत्री सरताज सिंह, मधुकर राव हरणे, महिला मोर्चा अध्यक्ष माया नारोलिया, दर्शन सिंह चौधरी, माधव अग्रवाल, राकेश जादौन, कुशल पटेल, कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, एसपी डॉ गुरकरन सिंह, जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम एवं दादा माखन लाल चतुर्वेदी के परिजन मौजूद रहे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गेहूं खरीदी शुरू हो गई है। हमारे प्रदेश के व नर्मदापुरम के गेहूं विदेश में निर्यात होगा। गेहूं एक्सपोर्ट (Wheat Export) होगा तो किसानों को और अधिक दाम मिलेंगे। हमारे प्रदेश के गेहूं को गोल्डन ग्रेन (Golden Grain), एमपी बीट (MP Beat) के नाम से जाना जाता है। गेहूं की फसल कट गई है। फसल कटाई के बाद नरवाई ना जलाएं क्योंकि इसके धुएं से प्रदूषण फैलता है। नरवाई से भूसा बनाया जाए, जिससे गोमाता की रक्षा हो सके। उन्होंने कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में इंदौर (Indore) में बहुत कार्य हुआ है वहां कचरे से खाद बनाई जा रही है। यहां तक कि सीएनजी (CNG) बनाई जा रही है। नर्मदापुरम में भी यह कार्य होना चाहिए। स्वच्छता से बीमारी से भी बचाव होता है। गांव-गांव तय करें कि स्वच्छता में आगे रहें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सीएम राइज स्कूल (CM Rise School) खुल रहे हैं, इसमे लाइब्रेरी (Library) होगी स्मार्ट क्लास (Smart Class) होंगी। इन स्कूलों में गरीब बच्चे की पढ़ाई भी बेहतर हो सकेगी। उन्होंने कहा कि हम मप्र में नया इतिहास रच रहे हैं। मेडीकल (Medical) की पढ़ाई अब हिन्दी में होगी। अपने देश में अपनी भाषा में पढ़ा रहे हें। अंग्रेजी सीखना बुरा नहीं है। निज भाषा की उन्नति होना चाहिए।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 21 अप्रैल से फिर से मुख्यमंत्री कन्या दान योजना शुरू हो रही है, अब 55 हजार खर्च होंगे। 2 मई को लाडली लक्ष्मी दिवस मनेगा। तीर्थ दर्शन यात्रा 19 अप्रैल से शुरू हो रही है। गरीब व मेधावी बच्चों की मेडीकल कॉलेज की फीस सरकार देगी। कुपोषण दूर करना है। आंगनबाड़ी में गरीब बच्चे आते हैं बच्चों को वहां अच्छा खाना मिलेगा तो वह कुपोषित नहीं होगा। किसान भाई आंगनबाड़ी के लिये अनाज दे सकते हैं। मेरे गांव का बच्चा दुबला पतला नहीं होना चाहिए। उन्होंने आव्हान किया कि कोई भी रिश्वत नहीं दें। इसका संकल्प लें।

मिलकर करें बिजली पानी की बचत

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिजली की बचत होना चाहिए। सरकार ने 21 हजार करोड़ रुपए बिजली के लिए दिए हैं, तब सस्ती बिजली मिलती है, संकल्प लें कि व्यर्थ बिजली नहीं जलाएंगे। फिजूल खर्ची बंद कर दें तो 4 हजार करोड़ बचा सकते हैं। पानी के लिए नल जल योजना पर 12 हजार करोड़ खर्च कर रहे हैं। इसके लिए भी संकल्प लें कि फालतू पानी नहीं बहाएंगे। गुंडे बदमाश की अवैध जमीन पर बुलडोजर चल रहा है। उन्होंने कहा कि अन्याय करने वालों को ऐेसा तोडूंगा कि जीने के लायक नहीं रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि नशा नाश की जड है। नर्मदा किनारे शराब की दुकान नहीं खुलेगी। मप्र में नशा मुक्ति अभियान चलाना है। सभी संकल्प लें कि अपने गांव को नशा मुक्त करेंगे। सोहागपुर विधायक द्वारा की गई मांगों को पूरा करने के साथ ही मुख्यमंत्री नेआडिटोरियम निर्माण की घोषणा की।
प्रभारी मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में प्रदेश निरंतर विकास कर रहा है। पिछले दिनों होशंगाबाद जिले का नामकरण नर्मदापुरम किया और आज पं. माखनलाल चतुर्वेदी के जन्म दिवस पर उनके जन्म स्थान बाबई का जन्म नामकरण माखन नगर किया है। सांसद उदय प्रताप सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रतिदिन दौरे करते हैं, और क्षेत्र में हुए विकास कार्यों का जायजा लेते हैं, प्रतिदिन वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से भी अधिकारियों की बैठक लेकर योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हैं। विधायक सोहागपुर विजय पाल सिंह ने इस अवसर पर बाबई का नामकरण माखन नगर किए जाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार प्रकट किया।

पद्मश्री विजयदत्त श्रीधर ने किया सम्मान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा बाबई का नाम माखननगर किए जाने पर प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार पद्यश्री विजयदत्त श्रीधर ने विभिन्न संस्थाओं की तरफ से स्मृति चिन्ह देकर मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। इन संस्थाओं में माधव राव सप्रे राष्ट्रीय समाचार पत्र संग्रहालय और शोध संस्थान, हिंदी भवन, तुलसी मानस प्रतिष्ठान, मध्य प्रदेश लेखक संघ आदि शामिल हैं।

माखननगर में रहा उत्सवी माहौल

माखन नगर में राष्टकवि माखनलाल चतुर्वेदी के जन्म दिवस पर सोमवार को पूरे शहर में सुबह से ही उत्सवी माहौल रहा। पूरे शहर में सुबह से ही स्वच्छता अभियान चलाया गया। दादा माखन लाल चतुर्वेद की प्रतिमा के पास विशेष साज-सज्जा की गई। पूरे शहर में घर-घर का उत्सव मनाया गया। घर व प्रतिष्ठान को सजाया गया। गौरव दिवस को लेकर हर नागरिक में एक अलग ही उमंग थी। बच्चों से लेकर वरिष्ठजनों और महिलाओं के द्वारा गौरव दिवस की खुशी मनाई जा रही थी। शहर में अनेक स्थानों पर आतिशबाजी की गई।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!