यूक्रेन में फंसे विद्यार्थियों की मदद के लिए जिला प्रशासन ने शुरू की पहल

यूक्रेन में फंसे विद्यार्थियों की मदद के लिए जिला प्रशासन ने शुरू की पहल

– सचिव गृह विभाग को दी जानकारी, वापस बुलाने का प्रयास
– जिला प्रशासन ने विद्यार्थियों के परिजनों से की बातचीत
नर्मदापुरम। यूक्रेन (Ukraine) में एमबीएसएस (MBSS) की पढ़ाई करने गए नर्मदापुरम (Narmadapuram) निवासी नैवेद्य सुनानिया (Naivedya Sunania) के फंसे होने की जानकारी नैवेद्य के पिता दौलतराम सुनानिया (Daulatram Sunania) ने जिला प्रशासन को देते हुए मदद की मांग की है।जिला प्रशाासन की ओर से तत्काल प्रयास करते हुए सचिव ग्रह विभाग को पत्र लिखकर अवगत कराया गया है कि आवेदक दौलतराम सुनानिया निवासी नंदबिहार कालोनी रूद्र इंक्लेव मालाखेड़ी का बेटा नैवेध सुनानिया एवं अन्य बालक राहुल राय (Rahul Rai), आशुतोष चौहान (Ashutosh Chauhan) को यूक्रेन के खार्किव (Kharkiv) शहर से वापस लाने में सहायता प्रदान करने का अनुरोध किया गया है। जिला प्रशासन को जैसे ही जानकारी मिली कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) ने तत्काल प्रभाव से शासन स्तर से प्रयास शुरू कर दिए गए है। इसके साथ जिला प्रशासन के द्वारा यूक्रेन में फंसे हुए विद्यार्थियों के परिवार से मोबाइल फोन पर चर्चा करते हुए उन्हें धैर्य बंधाते हुए किए जा रहे प्रयास की जानकारी दी है।
परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार जो विद्यार्थी यूक्रेन में फंसे हुए हैं उनमें नैवेद्य सुनानिया, राहुल राय हर्ष नगर गरिमा गैस एजेंसी नर्मदापुरम और आशुतोष चौहान नारायण नगर नर्मदापुरम के निवासी हैं। यूक्रेन के खार्किव शहर में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हैं। सभी छात्र सुरक्षित हैं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!