जंगल कहीं भी हो, सभी का संरक्षण जरूरी

जंगल कहीं भी हो, सभी का संरक्षण जरूरी

– जन सहभागिता से वनों का सरंक्षण पर कार्यशाला
नर्मदापुरम। विश्व वानिकी दिवस (World Forestry Day) 21 मार्च 2022 के अवसर पर सामान्य वन मंडल नर्मदापुरम (General Forest Division Narmadapuram) के तत्वावधान में वन प्रबंधन में स्थानीय समुदायों की भूमिका को अधिक सशक्त बनाने व विगत दो दशकों में हुए वैधानिक बदलावों के साथ सामंजस्य बनाये रखने मध्यप्रदेश शासन (Government of Madhya Pradesh) वन विभाग (Forest Department) द्वारा वन प्रबंधन (Forest Management) में जन सहयोग प्राप्त करने जन सहभागिता से वनों का सरंक्षण विषय पर एक जिला स्तरीय कार्यशाला आज हर्बल पार्क नर्मदापुरम (Herbal Park Narmadapuram) में हुई।कार्यक्रम का शुभारंभ डीएफओ अशोक सोलंकी (DFO Ashok Solanki) ने मां सरस्वती के चित्र के सामने दीप प्रज्वलित कर किया। समिति अध्यक्ष ने कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) का स्वागत किया। कार्यशाला में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने संकल्प पत्र का अभिवाचन किया और वन कर्मियों सहित समितियों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि जंगलों का सरंक्षण करना जरूरी है। जंगल को सुरक्षित रखना हम सभी का दायित्व है। सभी जंगल एक जैसे होते हैं, चाहे वह रिजर्व फारेस्ट (Reserve Forest) का जंगल हो या फिर राजस्व क्षेत्र का जंगल हो, इनको सुरक्षित एवं संरक्षित रखना सभी का दायित्व है। इससे समिति शक्तिशाली होगी, काम के लिए मजबूत होगी, काम करने का दायित्व मिलेगा, जिसका परितोषिक भी आपको मिलेगा। डीएफओ अशोक सोलंकी ने भी संकल्प पत्र का वाचन किया। कार्यक्रम में एसडीओ शिवकुमार अवस्थी (SDO Shivkumar Awasthi), एसडीओ केएस सेंगर (SDO KS Sengar), सहित वन परिक्षेत्रों के रेंजर (Ranger), डिप्टी रेंजर (Deputy Ranger), वन कर्मी, वन समितियों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!