सीएम चौहान कल नर्मदा जयंती महोत्सव में होंगे शामिल

सीएम चौहान कल नर्मदा जयंती महोत्सव में होंगे शामिल

– कलेक्टर ने की आयोजन की समीक्षा
नर्मदापुरम। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) कल 8 फरवरी, मंगलवार को नर्मदापुरम (Narmadapuram) आएंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान मंगलवार को सायं 5:15 बजे ग्राम जैत जिला सीहोर (Sehore) से प्रस्थान कर सायं 5:30 बजे हेलीपैड (Helipad) नर्मदापुरम पहुंचेंगे और यहां सेठानी घाट (Sethani Ghat) पर आयोजित नर्मदा जयंती महोत्सव (Narmada Jayanti Mahotsav) कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री सायं 7:30 बजे नर्मदापुरम से बुधनी जिला सीहोर के लिए प्रस्थान करेंगे।

प्रभारी मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह भी आएंगे

खनिज साधन एवं श्रम विभाग एवं जिले के प्रभारी मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह (Brijendra Pratap Singh) मंगलवार को नर्मदापुरम आएंगे। जारी दौरा कार्यक्रम के अनुसार मंत्री श्री सिंह 8 फरवरी को दोपहर 2:30 बजे भोपाल (Bhopal) से प्रस्थान कर सायं 4 बजे नर्मदापुरम पहुंचेंगे और यहां सेठानी घाट पर आयोजित नर्मदा जयंती महोत्सव के कार्यक्रम में शामिल होंगे। मंत्री श्री सिंह रात्रि 8 बजे नर्मदापुरम से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।

छह सदी बाद मिला प्राचीन नाम

होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम करने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार ने सहज स्वीकार्य करते हुए मान्यता दी है जो लगभग छह सौ वर्ष के उपरांत प्राचीन नाम मिला है। इसके लिए सुबह 11 बजे नर्मदापुरम स्थित नेहरु पार्क में प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री का धन्यवाद ज्ञापित किया जाएगा। दोपहर 12 बजे नामकरण संस्कार के अंतर्गत कोरीघाट पर हवन, आरती और प्रसाद वितरण, शाम 6 बजे दीपोत्सव सेठानी घाट, इसी दौरान तिलक भवन सेठानी घाट पर प्रदर्शनी लगेगी जिसमें नर्मदा तट क्षेत्र में किये गये कार्यों का चित्रात्मक प्रस्तुतिकरण होगा।

हर्षोल्लास और उमंग के साथ मनेगी नर्मदा जयंती

जिले में हर्षोल्लास और उमंग के साथ नर्मदा जयंती महोत्सव मनाया जाएगा। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) ने सोमवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय (Collectorate Office) में आयोजित समयसीमा की बैठक में नर्मदा जयंती महोत्सव की तैयारियों की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने मुख्य समारोह की तैयारी, मुख्य अतिथि के कार्यक्रम स्थल पर आगमन, जल मंच व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था सहित आदि की समीक्षा कर नोडल अधिकारियों ( Nodal Officers) को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपने सौंपे गए दायित्वों को बेहतर ढंग से निभाएं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!