घाटों पर अलर्ट: खतरे के निशान से 4 मीटर नीचे नर्मदा का जलस्तर

घाटों पर अलर्ट: खतरे के निशान से 4 मीटर नीचे नर्मदा का जलस्तर

पिछले साल से 300 mm कम है अभी बारिश

पिपरिया। दो दिनों से हो रही लागातार बारशि के चलते बरगी डैम के 13 गेट खोले गए थे। बरगी डैम में जलभराव अधिक होने से प्रशासन ने बरगी बांध के गेट खोल दिए हैं। जिसके चलते सांडिया बरेली हाईवे के सिवनी पुल से खतरे के निशान से चार मीटर नीचे नर्मदा का जल बह रहा है। बढ़ते जलस्तर को देखते हुए एस.डी.एम नितिन टाले(SDM Nitin Talay), एसडीओपी शिवेन्दु जोशी(SDOP Shivendu Joshi), तहसीलदार राजेश बोरासी(Tehsildar Rajesh Borasi) ने सिवनी पुल पहुंच पुल का निरीक्षण किया। वही पानी में डूब गए घाट का दौरा कर निचले इलाके में रहने वाले लोगों दुकानदारों को सचेत किया।

सरकारी स्कूल को बनाया शेल्टर
एहतियात के तौर पर सरकारी हाई स्कूल को अस्थाई शेल्टर बनाने के निर्देश दिए। तहसीलदार ने बताया कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है सिवनी पुल से वाहनों का आवागमन जारी है। नदी के जलस्तर पर नजर रखी जा रही है। सिवनी पुल की अधिकतम ऊंचाई 15 मीटर है वर्तमान में नदी में पानी 11 मीटर के निशान तक है।

यह कहते है आंकडे
बाढ़ नियंत्रण कक्ष के आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले साल 21 अगस्त को 900 मिलीमीटर से अधिक बारिश हो चुकी थी जबकि वर्तमान में आज तक महज 600मिलीमीटर बारिश का आंकड़ा पहुंचा है। सीधे तौर पर देखा जाए तो पिछले साल से अभी 300 मिमी बारिश कम है। पिछले दो.तीन दिन से हो रही बारिश से किसानों को जरूर राहत मिली है धान की फसल के लिए बारिश इस समय बहुत जरूरी बताई जा रही है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: