स्वामी विवेकानंद की जयंती पर राष्ट्रीय युवा दिवस का आयोजन

स्वामी विवेकानंद की जयंती पर राष्ट्रीय युवा दिवस का आयोजन

इटारसी। स्वामी विवेकानंद की जयंती पर राष्ट्र के विकास में युवाओं का महत्व और आजादी का अमृत काल के दौरान उनकी भूमिका और व्यापक जागरूकता पैदा करने के लिए महाविद्यालय में राष्ट्रीय युवा दिवस का आयोजन किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य एवं प्राध्यापकों ने स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया। प्राचार्य डॉ. आरएस मेहरा ने बताया कि स्वामी जी के विचार भारत के ही नहीं बल्कि विश्व के युवाओं के लिए प्रासंगिक एवं अनुकरणीय है। डॉ. हरप्रीत रंधावा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद के कथन जागो उठो और तब तक चलते रहो, जब तक कि लक्ष्य प्राप्त ना हो जाए को आज के युवा को अपने जीवन का मूल मंत्र बना लेना चाहिए।

डॉ. संजय आर्य ने कहा कि राष्ट्रीय युवा दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य युवाओं को राष्ट्रीय निर्माण के लिए प्रेरित करना है। स्नेहांशु सिंह ने कहा कि हमें अपने चरित्र निर्माण के लिए हमेशा पांच सूत्र याद रखना चाहिए आत्मविश्वास, आत्मनिर्भरता, आत्मसंयम, आत्मज्ञान एवं आत्म त्याग। डॉ. शिरीष परसाई ने कहा कि भारत के गौरव को विश्व में उज्ज्वल करने वाले प्रत्येक भारतीय के प्रेरणा स्रोत स्वामी विवेकानंद ने पूरे विश्व को भारतीय संस्कृति के मूल्यों से समृद्ध किया और अपने प्रेरक विचारों से युवाओं में राष्ट्र निर्माण के लिए एक नई चेतना का संचार किया।

इस अवसर पर मंजरी अवस्थी, रविन्द्र चौरसिया, अमित कुमार, श्रीमती पूनम साहू, डॉ. श्रद्धा जैन, डॉ. शिरीष परसाई, डॉ. नेहा सिकरवार, रश्मि मेहरा, क्षमा वर्मा, प्रिया कलोसिया, तरुणा तिवारी, श्रीमती शोभा मीना, हेमंत गोहिया एवं छात्राएं उपस्थित थीं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!