विश्व ओजोन दिवस पर परिचर्चा का आयोजन

विश्व ओजोन दिवस पर परिचर्चा का आयोजन

इटारसी। शासकीय कन्या महाविद्यालय इटारसी (Government Girls College Itarsi) में आज विश्व ओजोन दिवस (World Ozone Day) पर गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ (Quality Assurance Cell ) एवं प्राणीशास्त्र विभाग (Department of Zoology) ने परिचर्चा का आयोजन किया।
इस अवसर पर प्रचार्य डॉ. आरएस मेहरा ने कहा कि पृथ्वी को सूर्य की किरणों के हानिकारक प्रभाव से बचाकर यह हमारे जीवन को संरक्षित करने में हमारी मदद करती है, इसलिए हमें प्रण लेना चाहिए कि हम अपनी पृथ्वी की रक्षा के लिये हर महत्व पूर्ण कोशिश करेंगे और रिसाइक्लिंग (Recycling) की मदद से पुन: पुरानी वस्तुओं का इस्तेमाल करेंगे जिससे हमारी पृथ्वी (Earth) सुरक्षित, सुंदर और स्वच्छ बनी रहें। गुणवत्ता प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ. हरप्रीत रंधावा ने कहा कि हम जलवायु परिवर्तन (Climate Change) के दुष्प्रभाव रोज देख रहे हैं। ओजोन डिप्लीशन (Ozone Depletion) एक बहुत बड़ी समस्या के रूप में सामने आया है, पर हमने देखा कि कोरोना काल में औद्योगिक एवं अन्य मानवीय गतिविधियों पर पूर्ण रूप से रोक लगी थी तो ओजोन परत में कुछ सुधार दिखने लगा था।
आज इस बात की महती अवश्यकता है कि सतत विकास के विषय में जागरूक हों और युवा शक्ति भविष्य के विकास के लिए जो लक्ष्य निर्धारित करें, उसमें पर्यावरण संरक्षण महत्वपूर्ण पहलू है। प्राणीशास्त्र विभाग के डॉ. संजय आर्य ने इस वर्ष की थीम पृथ्वी पर जीवन की रक्षा करने वाला वैश्विक सहयोग है। ओजोन दिवस ((Ozone Day) ) मनाने का मुख्य उददे्श्य ओजोन परत के संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक करना है। ओजोन परत के बिना जीवन संकट में पड़ सकता है क्योंकि परावैंगनी किरणें अगर सीधे धरती पर पहुंच जाये तो ये मनुष्य, पेड़-पोधों और जानवरों के लिये बहुत खतरनाक हो सकती है। विश्व ओजोन दिवस पर महाविद्यालय की छात्राओं ने भी विचार व्यक्त किये एवं छात्राओं ने पोस्टर बनाकर जागरूक किया।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!