न्‍यू ईयर सेलिब्रेट 2023 : फुल एंजॉयमेंट करना चाहते हैं तो जरूर जाएं इन जगहों पर 

न्‍यू ईयर सेलिब्रेट 2023 (celebrate new year 2023)

न्‍यू ईयर सेलिब्रेट 2023 : मध्यप्रदेश बहुत ही खूबसूरत राज्य है। यहां घूमने के लिए कई बेहतरीन जगहें हैं। भारत में मध्‍यप्रदेश मुख्य पर्यटन स्‍थल के रूप में भी जाना जाता है। यहां आपको एतिहासिक स्थलों से लेकर प्रकृति की ऐसी-ऐसी खूबसूरत जगहें देखने को मिलेंगी कि आप मंत्रमुग्ध हो जाएंगे।

मध्‍यप्रदेश का स्विजरलैंड हनुवंतिया टापू, घूमने की सम्‍पूर्ण जानकारी……

यहां के सभी पर्यटन स्‍थल दुनिया भर में प्रसिद्व हैं। यहां स्थित मंदिरों की वास्तुकला प्रेम के एक खास रूप को दर्शाती है। विंध्य पर्वत श्रृंखला से घिरा हुआ खजुराहो शहर यूनेस्को की विश्व विरासत स्थल सूची का हिस्सा है। यही वजह है कि यहां दुनियाभर से पर्यटक घूमने आते हैं। यहा आप भारतीय वास्तुकला और संस्कृति का शानदार नमूना देखकर चकित रह जाएगें।

यदि आप भी न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर यादगार बनाना चाहते हैं तो जरूर घूमने जाएं इन खूबसूरत जगहों पर।

1. बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन (Ujjain)

उज्जैन मध्य प्रदेश के सबसे प्रमुख दर्शनीय स्थलों में से एक है। यहां महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग स्थित है जो भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। यही वो शहर है, जहां हर 12 वर्ष में कुंभ मेला लगता है, जिसमें दुनियाभर से लाखों-करोड़ों लोग आते हैं।

क्षिप्रा नदी के तट पर बसे उज्जैन को ‘मंदिरों का शहर’ भी कहा जाता है, क्योंकि यहां लगभग हर गली में मंदिर दिखाई देते हैं। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

2. ओंकारेश्वर (Omkareshwar)

12 ज्योतिर्लिंगों में एक ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में स्थित हैं। यहां पर नर्मदा स्वयं ॐ के आकार में बहती है ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग का परिसर एक पांच मंजिला भवन में बसा है जिसकी पहली मंजिल पर महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग स्थित हैंं।

तीसरी मंजिल पर सिद्धनाथ महादेव स्थापित है, चौथी मंजिल पर गुप्तेश्वर महादेव और पांचवी मंजिल पर राजेश्वर महादेव का मंदिर स्थित है। यहा नर्मदा और कावेरी नदियों के संगम है। इसके साथ ही यहां घूमने लायक अनेकों मंदिर हैं। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के पौराणिक रहस्य और इतिहास सम्‍पूर्ण जानकारी…

3. बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान (Bandhavgarh National Park)

बांधवगढ़ नेशनल पार्क मध्य प्रदेश के सबसे खास पर्यटकों स्थलों में से एक है जो पुराने समय में रीवा के महाराजाओं के लिए शिकार गाह हुआ करता था। यह राष्ट्रीय उद्यान बाघ अभयारण्य के रूप पूरी दुनिया में जाना जाता है। बांधवगढ़ नेशनल पार्क दुनिया में रॉयल बंगाल टाइगर्स घनत्व के लिए दुनिया भारत में प्रसिद्ध है।

यह उद्यान वन्यजीव और बहुतायत में वनस्पतियों के वजह से एक बहुत ही सुंदर जंगल है। इस पार्क में स्तनधारियों की 22 से ज्यादा और अविफौना की 250 प्रजातियां पाई जाती हैं। बांधवगढ का राष्‍ट्रीय उद्यान घूमने के लिए बहुत ही अच्‍छी जगह हैं। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

4. ग्वालियर पर्यटन मध्य प्रदेश के प्रमुख महल (Gwalior)

मध्य प्रदेश राज्य में स्थित ग्वालियर शहर अपने किले, स्मारकों, महलों और ऐतिहासिक मंदिरों के लिए जाना-जाता है। इस शहर की स्थापना राजा सूरजसेन ने की थी। यह शहर चारों तरफ से सुंदर पहाड़ियों और हरियाली से घिरा हुआ है। यहां विदेशों से पर्यटक आतें हैं। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

ग्वालियर का किला शहर का मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है। जय विलास महल और सूर्य मंदिर ग्वालियर के कुछ ऐसे पर्यटन स्थल हैं, जिन्हें देखने के बाद आप इन्हें कभी नहीं भूल सकते। मशहूर शास्त्रीय संगीतकार तानसेन का मकबरा भी यहाँ का एक महत्वपूर्ण स्थान है। हर साल नवंबर-दिसंबर के महीने में शहर में चार दिवसीय तानसेन संगीत उत्सव का आयोजन किया जाता है।

यहां क्लिक करें : इंदौर के 5 खूबसूरत पर्यटन स्‍थल

5. सांची का स्‍तूप (Stupa of Sanchi)

मध्‍यप्रदेश राज्‍य में स्थित सांची का स्‍तूप बौद्ध धर्म के दर्शनीय स्थलों में से एक है जो भारत में सबसे पुराने पत्थर संरचनाओं के लिए प्रसिद्ध है। साँची में स्थित बौद्ध स्मारक सांस्कृतिक रूप से समृद्ध भारत में मौजूद विशाल धरोहर का प्रतीक है। यहां स्थित महान स्तूप को तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व में मौर्य वंश के सम्राट अशोक द्वारा स्थापित किया गया था।

साँची में स्थित स्तूपों को भगवान बुद्ध और कई महत्वपूर्ण बौद्ध अवशेषों के घरों के रूप में बनाया गया था। यह स्थान हरे भरे बागानों से घिरा हुआ है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को आनंद और शांति प्रदान करता है। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

साँची स्तूप के इतिहास के बारे में जानें रोचक बातें

6. महेश्वर (Maheshwar)

नर्मदा नदी के तट पर स्थित महेश्वर मध्य प्रदेश के मंदिर शहर के रूप में जाना जाता है। यह शहर अपना एक अलग पौराणिक और ऐतिहासिक महत्व रखता है। यहां रामायण और महाभारत के महाकाव्यों में भी शहर का उल्लेख हुआ है। महेश्वर पहले रानी अहिल्याबाई होल्कर के प्रांत होल्कर की राजधानी थी।

उन्ही ने इस शहर में कई इमारतों का निर्माण करवाया और सार्वजनिक कार्यों को पूरा करते हुए मराठा वास्तुकला के साथ शहर को सुशोभित किया। महेश्वर माहेश्वरी साड़ियों के उत्पादन के लिए काफी प्रसिद्ध है। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

7. पचमढ़ी पर्यटन (Panchmarhi)

अगर आप एक प्रकृति प्रेमी हैं तो मध्य प्रदेश में घूमने के लिए पचमढ़ी से अच्छी जगह और कोई नहीं हो सकती। पचमढ़ी 1,067 फीट की ऊँचाई पर स्थित मध्य प्रदेश का एक मात्र हिल स्टेशन है जिसको सतपुड़ा पर्वतमाला की रानी के रूप में जाना जाता है।

पचमढ़ी मध्य प्रदेश का प्रमुख पर्यटक स्थल है जो चीन गुफाओं और सुंदर स्मारकों जैसे असंख्य आकर्षणों से भरा हुआ है। अगर आप मध्यपदेश में घूमने की अच्छी जगहों की खोज कर रहे हैं तो आपको एक बार पचमढ़ी जरुर जाना चाहिए। यहां पर स्थित झरनों और प्रकृति को देखकर आप दगं रह जाएगें। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

8. भीमबेटका मध्य प्रदेश की प्रमुख गुफाये (Bhimbetka)

मध्य प्रदेश में स्थित भीमबेटका रॉक शेल्टर एक पुरातात्विक स्थल है जो भारतीय उपमहाद्वीप पर मानव जीवन के शुरुआती निशानों को दिखाता है। इतिहास प्रेमियों के लिए भीमबेटका स्वर्ग के समान है। यहाँ पर 500 से अधिक रॉक शेल्टर और गुफाएं है जिनमें बड़ी संख्या में पेंटिंग हैं।

यहां लगभग 3000 वर्ष पुरानी प्राचीन किले की दीवार, पाषाण निर्मित भवन, शंख गुप्त कालीन अभिलेख, परमार कालीन मंदिर, जो यह बताती हैं कि भीम बेटका कभी आदिमानवों के रिहायशी जगह हुआ करती थी। साथ ही भीम बेटका में प्रवेश करते हुए कई ऐसे पाषाण युग के अवशेषों जो गुफा की दीवारों पर लिखे गये लेखों से यह जानकारी मिलती है। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

9. भोजपुर (Bhojpur)

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के पास भोजपुर गाँव में एक अधूरा हिंदू मंदिर है, जहांं भगवान शिव का सबसे बडा शिवलिंग स्थित है। इस मंदिर की सबसे खास बात यह है कि इसके गर्भगृह में एक 7.5 फीट ऊंचा लिंग है। बताया जाता है कि इस शिवलिंग का निर्माण 11वीं शताब्दी में राजा भोज के शासनकाल के दौरान किया गया था और किसी कारणों की वजह से इस मंदिर का निर्माण अधूरा छोड़ दिया गया था। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

अगर आप इस मंदिर के दर्शन के लिए जायेंगे तो आप वहां पर निर्माण की सामग्री को भी देख सकते हैं जो पुराने समय की है।

भोजपुर शिव मंदिर के बारे में जाने अनोखे रहस्‍य

10. मढ़ई (Madhai)

मढ़ई शहर मध्य प्रदेश में घूमने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है। मढई एक बेहद शांत और प्राकृतिक जगह है जो अपने परिवार के साथ घूमने के लिए एक आदर्श पर्यटन स्थल है। मढ़ई प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग के सामान है क्योंकि यहाँ पाए जाने वाले वनस्पति और जीवों की असंख्य विविधता मंत्रमुग्ध कर देती है।

अगर आप मध्य प्रदेश में घूमने के लिए अच्छी जगह देख रहे है तो एक बार मढ़ई की यात्रा जरूर करें। यहां जाकर आप बहुत ही अच्‍छें से न्‍यू ईयर सेलिब्रेट कर सकते हैं।

Royal
CATEGORIES
Share This
error: Content is protected !!