बारिश ने रावण जलने से रोका, बचे रहे आठ सिर

Must Read

सोहागपुर/राजेश शुक्ला। विजयादशमी के मौके पर सुबह से ही आसमान में बादल छाए हुए थे। हालांकि इस बीच धूप भी खिली और फिर शाम तक मौसम फिर बदल गया। रात्रि को पलकमति नदी के किनारे रावण दहन का कार्यक्रम होना था। रावण का पुतला खड़ा हुआ था और आतिशबाजी चालू थी।
इसी बीच बारिश प्रारंभ हो गई और धीरे-धीरे बारिश तेज हो गई। रावण जलते जलते रुक गया और बारिश की वजह से रावण के आठ सिर एवं हाथ नहीं जले। इसी के साथ उसका ढांचा भी खड़ा रहा। इस मौके पर क्षेत्रीय नागरिकों के अलावा विधायक विजय पाल सिंह, पूर्व विधायिका सविता दीवान पूर्व विधायक हरिशंकर जयसवाल, पूर्व विधायक अर्जुन पलिया, नगर परिषद अध्यक्ष लता यशवंत पटेल पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष संतोष मालवीय,दशहरा समिति के अध्यक्ष संजय तिवारी सहित अन्य गणमान्य नागरिक, भाजपा कांग्रेस कार्यकर्ता एवं भारी भीड़ मौजूद थी।

spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest News

श्री द्वारिकाधीश मंदिर से निकली श्रीराम जी की बारात, भक्ति में झूमे नगरवासी

इटारसी। देवल मंदिर में हो रहे श्रीराम विवाह महोत्सव एवं नि:शुल्क सामूहिक विवाह के अंतर्गत आज सोमवार को श्री...

More Articles Like This

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: