रैनबसेरा चलता नहीं, वृद्धाश्रम (old age home) कैसे चलाएगी नगर पालिका

रैनबसेरा चलता नहीं, वृद्धाश्रम (old age home) कैसे चलाएगी नगर पालिका

इटारसी। जिला प्रशासन ने आयकर भवन के पीछे रोटरी क्लब (Rotary Club) द्वारा संचालित वृद्धाश्रम अपनाघर की कमान नगर पालिका को सौंपने के निर्देश जारी किय हैं। सवाल यह उठता है कि बिना किसी परेशानी के अब तक रोटरी क्लब इसका संचालन कर रहा था और कहीं से कोई शिकायत भी नहीं थी तो केवल एक बिन्दु को लेकर, कि प्रथम तल पर वृद्धाश्रम नहीं चलाया जा सकता, इसका संचालन कैसे बंद किया जा सकता है? जिला प्रशासन के इस निर्णय पर सवाल उठना लाजमी है।
पिछले करीब 12 वर्षों से रोटरी क्लब इसका संचालन कर रहा था और करीब 5 वर्ष पूर्व से इसे शासकीय अनुदान (Government grant) मिलने लगा। वृद्धाश्रम का प्रबंधन देख रहे रोटरी क्लब के पूर्व अध्यक्ष नवनीत कोहली (Navneet kohli) का कहना है कि पिछले पांच वर्ष से जब शासकीय ग्रांट मिलने लगी तो शासन के दिशा निर्देशों से इसका संचालन हो रहा था। इससे पहले क्लब के सदस्य आपसी में राशि एकत्र कर इसका संचालन करते रहे हैं। उपसंचालक और कमिश्रर यहां आकस्मिक निरीक्षण करते रहे हंै। कमिश्रर श्रीमती रेणु तिवारी (Mrs. Renu Tiwari) पिछले एक वर्ष से कह रहीं थी कि प्रथम तल पर इसका संचालन नहीं हो सकता है, आप कहीं ओर जगह देखें। हमने इसमें असमर्थता जतायी। उन्होंने कहा कि हमें यह किसी अन्य संस्था को देना पड़ेगा। यह प्रशासन का निर्णय है, हम ठीक संचालन कर रहे थे, वृद्ध भी काफी खुश थे। अब इसका संचालन नगर पालिका करेगी।

सवाल, वही कि कैसे करेगी नपा
नगर पालिका पिछले कई वर्षों से रेलवे स्टेशन के सामने रैनबसेरा का संचालन कर रही है और हमेशा इसके नियमानुसार संचालन न करने पर सवालों के घेरे में रही है। रैन बसेरा कभी भी उन लोगों के काम नहीं आया जिनके लिए यह बना था। इसमें कभी पुलिसकर्मी रुकते रहे, कभी रेलकर्मी तो कभी अन्य कोई यात्री। कुल जमा इसका संचालन होटल जैसे होता रहा। फिर नगर पालिका के कुछ सब इंजीनियर्स ने इसमें डेरा जमा लिया। ठेकेदारों का अड्डा बन गया और जिनके सिर पर छत नहीं वे खुले आसमान के नीचे ही डेरा डाले रहे। सर्दी, गर्मी, बरसात, कभी उनके काम नहीं आया। अब नगर पालिका के पास वृद्धाश्रम का संचालन आया है तो इसे कैसे संचालित किया जाएगा, यह समझ से परे है।

CATEGORIES
TAGS

AUTHORRohit

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: