“होम आइसोलेशन” के लिए गाइडलाइन जारी करें, ताकि हो बेहतर उपचार

“होम आइसोलेशन” के लिए गाइडलाइन जारी करें, ताकि हो बेहतर उपचार

मास्क लगाना और सावधानियों का अनिवार्य रूप से पालन किया जाए

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है कि प्रदेश के हर जिले में कोरोना के इलाज की चिन्हित शासकीय अस्पतालों में अच्छी व्यवस्था की गई है। साथ ही कुछ निजी चिकित्सालयों को भी अनुबंधित किया गया है। जहां कोरोना के इलाज की निशुल्क व्यवस्था है। बिना लक्षण वाले ऐसे मरीज, जिनके घर में व्यवस्था है, उन्हें होम आइसोलेशनश् में भी रखा जा रहा है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन के लिए गाइडलाइन जारी की जाएं जिससे घर पर भी मरीज का अच्छा इलाज एवं पूरी देखभाल हो सके।

यह रखे सावधानियां
मुुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए प्रत्येक जिले में मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग और बचाव के लिये आवश्यक सावधानियों का अनिवार्य रूप से पालन कराया जाए। मुख्यमंत्री चौहान मंत्रालय में वी.सी के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस(Chief Secretary Iqbal Singh Bains), अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान(Additional Chief Secretary Health Mohammad Suleman) आदि उपस्थित थे।

प्रदेश का रिकवरी रेट(State Recovery Rate) 76.4 प्रतिशत
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश की कोरोना रिकवरी रेट 76.4 प्रतिशत हो गई है। प्रदेश की पॉजिटिविटी रेट 4.57 प्रतिशत तथा मृत्यु दर 2.24 प्रतिशत है। प्रदेश की प्रति 10 लाख टेस्टिंग 15.467 हो गई है। एक्टिव प्रकरणों के मान से प्रदेश का देश में 16वां स्थान हैए यहां एक्टिव प्रकरणों की संख्या 12 हजार 422 है। प्रदेश में अब प्रतिदिन 23 हजार से अधिक टेस्ट हो रहे हैं।

सर्वाधिक प्रकरणों वाले 10 जिले
जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि कोरोना के इंदौर में सर्वाधिक 171 नए प्रकरण आए हैंए वहीं ग्वालियर में 156, भोपाल में 155, जबलपुर में 126, झाबुआ में 49, शिवपुरी में 43, धार में 36, खरगौन में 36, उज्जैन में 34 तथा सागर में 31 नए प्रकरण आए हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने इन सभी जिलों पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए।

वर्तमान में 2109 मरीज होम आइसोलेशन (Home isolation)में
अपर मुख्य सचिव सुलेमान ने बताया कि प्रदेश के विभिन्न जिलों में वर्तमान में कुल 2109 मरीज होम आइसोलेशन में है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक जिले को निर्देश जारी कर दिए गए हैं कि फीवर क्लीनिक्स(Fever Clinics) पर कोरोना टेस्ट के लिए सैम्पल लिए जाने की व्यवस्था होए जिससे कोई भी व्यक्ति वहां जाकर आसानी से अपना कोरोना टेस्ट करा सके।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: