बुधवार, जून 19, 2024

LATEST NEWS

Train Info

मुस्कान बालिका गृह में गूंजी किलकारी, एक और बालिका का जन्म

इटारसी। मुस्कान बालिका गृह में निवासरत एक गर्भवती बालिका का प्रसव डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्साल में चिकित्सकों की टीम में रात्रि 2 बजे कराया। नाबालिग ने प्रेमजाल में फंसकर प्रेम विवाह किया जिसमें माता-पिता ने साथ रखने को मना कर दिया था। बाल कल्याण समिति के आदेश से जनवरी में मुस्कान बालिका गृह में आई तब वह 7 महीने के गर्भ में थी। आज उसने एक बिटिया का जन्म दिया। कम उम्र में प्यार में पड़कर लड़की ने प्रेम विवाह कर लिया। परिजनों ने पुलिस थाने ने रिपोर्ट कराई, पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर प्रेमी को गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत किया और जेल भेज दिया।

संस्था संचालक मनीष ठाकुर ने बताया कि रविवार को युवती को दर्द उठा तो एसडीएम टी प्रतीक राव को फोन करके सूचना दी। एसडीएम ने अधीक्षक डॉ आरके चौधरी से चर्चा कर चिकित्सक की टीम बनाकर डिलेवरी कराई। हॉस्पिटल अधीक्षक डॉ. चौधरी के मार्गदर्शन में चिकित्स और नर्सिंग स्टाफ तथा टीम को बालिका गृह की अधीक्षक ऋतु राजपूत ने धन्यवाद दिया। ऋतु राजपूत ने बताया कि जब तक नाबालिक 18 वर्ष की नहीं हो जाती, तब तक नवयुवती और उसकी बच्ची की देखवाल संस्था करेगी। अभी वह मुस्कान बालिका गृह में निवास कर रही है। वर्तमान में 32 बालिका जिनके शिक्षा और पुर्नवास का जिम्मा संस्था के पास है।

ये सब बच्चियां बाल कल्याण समिति के निर्देश पर संस्था में आती है। शासन की महत्वपूर्ण योजना शक्ति सदन भी मुस्कान संस्था में संचालित है वर्तमान में 8 महिला निवासरत हैं। शक्ति सदन में पीडि़त महिलाओं के परामर्श, निवास, पुनर्वास, चिकित्सा के साथ रोजगार की व्यवस्था की जाती है। मुस्कान में अभी तीन नवजात शिशुओं की देखवाल संस्था की माताएं विशाखा अंजीकर, गीता काहार, रानी राजपूत, मोना जॉनसन, ज्योति राव, रिंकी भैसारे करती हैं। 15 दिन पूर्व भी एक दिव्यांग युवती को एक कन्या प्राप्त हुई, उसकी भी देखभाल का जिम्मा संस्था ने लिया।

Rashtra Bharti

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

MP Tourism

error: Content is protected !!