सीएम राइज स्कूल योजना क्‍या है? CM Rise schools से क्‍या फायदे होगें. New Govt Scheme Guide 2022
सीएम राइज स्कूल योजना क्‍या है इससे क्‍या क्‍या फायदे होगें, क्‍या हैं मुख्य उद्देश कब से होगें ऐडमिशन चालू सम्‍पूर्ण जानकारी Full Details in Hindi 2022

सीएम राइज स्कूल योजना क्‍या है? CM Rise schools से क्‍या फायदे होगें. New Govt Scheme Guide 2022

सीएम राइज स्कूल योजना (CM Rise schools) क्‍या है? इससे क्‍या क्‍या फायदे होगें? क्‍या हैं इसके मुख्य उद्देश? कब से होगें ऐडमिशन चालू सम्‍पूर्ण जानकारी…

सीएम राइज स्कूल योजना | CM Rise schools
सीएम राइज स्कूल योजना | CM Rise schools

सीएम राइज स्कूल योजना (CM Rise School Scheme)

योजना का नाम सीएम राइज स्कूल योजना
घोषणा11 जून 2021
किसके द्वारा शुरू किया गयामध्यप्रदेश सरकार
सीएम राइज स्कूलों में प्रवेश1 अप्रैल 2022
योजना का उद्देश्यछात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना
विभागस्कूल शिक्षा विभाग
विमर्श पोर्टलwww.vimarsh.mp.gov.in
सीएम राइज स्कूल योजना (CM Rise schools)

सीएम राइज स्कूल योजना क्या है? What is CM Rise School Scheme?

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में 9200 सीएम राइज स्कूलों को शुरू करने का निर्णय लिया हैं। इन स्कूलों को खोलने का लक्ष्‍य छात्रों को गुणवत्तापूर्ण और संसाधनों से भरपूर शिक्षा प्रदान करना है। सीएम राइज स्कूलों में केजी से लेकर बारहवीं तक के छात्रों को शिक्षा देने की व्यवस्था की गई है।

इन स्कूलों को खोलने की योजना शिक्षा विभाग ने बनाई है। इस योजना के अन्‍तर्गत स्कूलों के निर्माण के लिए 7 हजार करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं जो,निर्माण के विभिन्न चरणों में खर्च किए जाएंगे, अधिकांश स्कूल का अभी भी निर्माण कार्य चल रहा हैं, सीएम राइज स्कूलों के तहत पहले चरण से अंत तक, कम से कम 360 स्कूलों को विकसित करने का लक्ष्य निर्घारित किया है।

सीएम राइज स्कूल योजना में कैसे होगा चयन? Selection Procedure of CM Rise School Scheme

इस योजना के तहत प्रदेश के सभी छात्र को प्रवेश लेने से पहले एक परीक्षा देना होगा। उसके बाद परीक्षा के आधार पर एक मेरिट सूची तैयार की जायेगी जिसके आधार पर ही बच्‍चो को प्रवेश दिया जायेगा।

सीएम राइज स्कूल योजना | CM Rise schools
सीएम राइज स्कूल योजना | CM Rise schools

सीएम राइज स्कूल योजना 1 अप्रैल 2022 से एडमिशन शुरू

Admission starts from 1 April 2022

1 अप्रैल, 2022 से सीएम राइज स्कूलों में प्रवेश प्रकिया शुरू हो चुकी हैं।

चार स्तरों पर सीएम राइज स्कूल

4 Levels CM Rise Schools

  • पहला स्तर मध्यप्रदेश में कुल 52 जिलें है, हर जिले में एक सीएम राइज स्‍कूल खोला जायेगा। इन सभी स्कूलों में 2000 से 3000 बच्चो का एडमिशन किया जायेगा।
  • दूसरे स्तर में विकासखंड लेवल पर स्कूलों को खोला जायेगा। विकासखंड स्तर पर 261 सीएम राइज स्‍कूल खोले जायेंगे। हर स्कूल में 1500 से 2000 विद्यार्थी होंगे।
  • तीसरे स्तर पर संकुल स्तरीय स्कूल खोलें जायेगे, जिनकी संख्या 3200 होगी। संकुल स्तरीय सीएम राइज स्कूलों में 1000 से 1500 विद्यार्थी होंगे।
  • चौथा स्तर ग्राम समूहों का होगा, कुल 5687 सीएम राइज स्‍कूल ग्राम स्तर पर खोले जायेगे। हर स्कूलों पर 800 से 1000 विद्यार्थी पढाई कर सकेंगे।

सीएम राइज स्कूल योजना का मुख्य उद्देश

Main objective of CM Rise School Scheme

सीएम राइज स्कूल योजना का मुख्य उद्देश्य बच्चों को सही शिक्षा का ज्ञान, कौशल विकास और खेल तथा दूसरी प्रतिभा (नृत्य, कला, संगीत) विकसित करना है। ताकि प्रदेश के बच्चे सीबीएसी और आईसीएसई बोर्ड के बच्चों से मुकाबला कर सकें।

मुख्‍यमंत्री कन्‍या दान योजना में क्‍या बदलाब हुऐ देखें………..

सीएम राइज स्कूल योजना के लाभ (Benefits of Rise School Scheme)

  • प्रशिक्षित उन्नत शिक्षक छात्रों को पढ़ाएंगे।
  • कक्षा में छात्रों को तकनिकी कौशल शिक्षा पर जोर दिया जायेगा।
  • डिजिटल लर्निंग के माध्यम से छात्रों की पढ़ाई कराई जायेगी।
  • खेल परिसर /खेल तकनिकी / कम्प्यूटर शिक्षक होगें।
  • स्कूल में जाने आने के लिए बच्चों के लिए स्कूल बस की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी।
  • इन सभी स्कूलों में आधुनिक उपकरणों की सुविधाएं भी प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के नियमों के अनुसार सभी शिक्षकों को पहले प्रशिक्षण लेना होगा।

सीएम राइज स्कूल योजना शिक्षक प्रशिक्षण (CM Rise School Scheme Teacher Training)

सीएम राइज योजना के तहत शिक्षकों को पहले प्रशिक्षण दिया जायेगा ताकि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार हो सके। यह प‍शिक्षण दीक्षा मोबाइल ऐप के माध्यम से होने वाले शिक्षक प्रशिक्षण में राज्य के सभी शिक्षकों को भाग लेना अनिवार्य होगा। शिक्षक अपने यूनिक आईडी का उपयोग करके दीक्षा मोबाल ऐप पर रजिस्ट्रेशन करके सीएम राइज स्कूल योजना शिक्षा प्रशिक्षण में शामिल हो सकते है। कक्षा 1 से 12 वीं तक के शिक्षकों को इस प्रशिक्षण में शामिल होना आवश्यक है। मध्यप्रदेश सरकार ने निर्देश दिया है कि इस शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम में एमपी के सभी शिक्षक को अवश्य शामिल होना चाहिए।

सीएम राइज स्कूल योजना | CM Rise schools
सीएम राइज स्कूल योजना | CM Rise schools

सीएम राइज स्कूल योजना डिजिटल ट्रेनिंग के मुख्य उद्देश्य (Main objectives of digital training)

  • यदि हम इस योजना के ढांचे के बारे में बात करते हैं तो यह मुफ्त कार्य और मॉड्यूल सत्र पर आधारित है और काम में निर्माण शिक्षकों को सीखने के लिए समझने के लिए कुछ वीडियो प्रदान करता है।
  • मॉड्यूल में शासन शिक्षकों को लाइव उदाहरणों के साथ अवधारणाओं को समझने के लिए वीडियो प्रदान करता है।

शिक्षक ट्रेनिंग के प्रमाणपत्र डाउनलोड कैसे करे (How To Download Deeksha Certificate?)

  • सबसे पहले दीक्षा एप्प में अपना यूनिक आईडी और पासवर्ड दर्ज करके लॉगिन करें।
  • अब आपकी प्रोफाइल खुलेगी इसमें आपको प्रशिक्षण विकल्प का चयन करना होगा।
  • इसके बाद लिखकर आएगा की अपने अपना प्रशिक्षण पूरा कर लिया है।
  • इसके बाद आपको अपने प्रोफाइल पर जाना होगा।
  • यहाँ आपको डाउनलोड विकल्प का चयन करना होगा।
  • अब आपका प्रशिक्षण प्रमाण पत्र डाउनलोड होना शुरू हो जायेगा।
  • इस प्रकार से MP CM rise प्रशिक्षण प्रमाण पत्र डाउनलोड किया जा सकता है।

सीएम राइज स्कूल योजना की ख़ास बातें (Highlights of CM Rise School Scheme)

  • सीएम राइज स्‍कूल के तहत अच्छा बुनियादी ढांचा तैयार किया जायेगा, उसी परिवेश में सभी बच्चो को शिक्षित किया जायेगा।
  • सभी छात्रों के लिए परिवहन की व्यवस्था की जाएगी। ताकि उन्हें आने जाने में कोई परेशानी का सामना न करना पड़े।
  • इन स्कूलों में प्रायमरी कक्षाएं भी होंगी।
  • उच्चा स्तर के शिक्षकों को व्यवस्था की जाएगी।
  • आधुनिक समय में डिजिटल तकनीक का बहुत ज्यादा उपयोग हो रहा है, इसलिए इन स्कूलों में भी स्मार्ट क्लास का भी प्रबंध कराया जायेगा।
  • सभी स्कूलों में सर्वसुविधायुक्त प्रयोगशालाओं का भी निर्माण किया जायेगा, जिससे बच्चों की वास्तविक स्थिति की भी जानकारी हो सके।
  • शिक्षा के स्तर को व्यावसायिक तरीके से भी रखा जायेगा। जिससे छात्रों को आगे चलकर व्यावसायिक तरीको को अच्छी तरह समझ जायेंगे।
  • अभिभावकों को भागेदारी को भी अनिवार्य किया जायेगा।
CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!