किसान क्रेडिट कार्ड योजना की जानकारी | Kisan Credit Card Scheme | KCC

किसान क्रेडिट कार्ड योजना की जानकारी | Kisan Credit Card Scheme | KCC

भारत सरकार की किसान क्रेडिट कार्ड योजना (Kisan Credit Card Yojna) असंगठित क्षेत्र के किसानों को साहूकारों से किसानों द्वारा लिये जाने वाले अधिक ब्याज के कर्ज से बचाने के उद्देश्य से तैयार की गई योजना है. इस योजना में ब्याज दर 2.00 फीसदी तक कम हो सकती है. इसके अलावा पुनभुर्गतान अवधि फसल की कटाई या व्यापार अवधि पर आधारित होती है, जिसके लिए ऋण लिया गया था.

केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) की विशेषताएं और लाभ / Features & Benefits of Kisan Credit Card (KCC)

  • ब्याज दर 00 फीसद जितनी कम हो सकती है.
  • 60 लाख रुपये तक के लोन बिना किसी सिक्योरिटी/सुरक्षा के मिल सकता है.
  • किसानों को फसल बीमा योजना का लाभ भी मिलता है.
  • इन स्थिति में बीमा कवरेज प्रदान की जाती है.
  • स्थायी विकलांगता और मृत्यु पर 50,000 रुपये तक.
  • अन्य जोखिमों के मुकाबले 25,000 रुपये तक दिया जाता है.
  • लोन राशि भुगतान अवधि फसल की कटाई और व्यापार अवधि पर आधारित होती है.
  • कार्ड धारक द्वारा 00 लाख रुपये तक की लोन राशि निकाली जा सकती है.
  • 60 लाख रुपये तक के लोन पर सिक्योरिटी जरूरी नहीं है.
  • किसान अपने केसीसी अकाउंट में बचत पर उच्च ब्याज दर प्राप्त करते हैं.
  • सरल ब्याज दर तब तक चार्ज की जाती है जब तक उपयोगकर्ता शीघ्र भुगतान करता है, अन्यथा चक्रवृद्धि ब्याज दर लागू हो जाती है.

किसान क्रडिट कार्ड योजना नाबार्ड (नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट) द्वारा निर्धारित की गई थी और भारत के सभी प्रमुख बैंकों ने इसका पालन किया है. केसीसी किसान क्रेडिट कार्ड) की पेशकश करने वाले शीर्ष बैंक ये हैं-

भारतीय स्टेट बैंक- भारतीय स्टेट बैंक किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) प्रदान करने वाले सबसे बड़े बैंकों में शामिल है. एसबीआई किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) (किसान क्रेडिट कार्ड) पर लगाया ब्याज 3.00 लाख रुपये तक के लोन राशि पर प्रति वर्ष 2.00 फीसद तक कम हो सकता है.

पंजाब नेशनल बैंक- पीएनबी किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) सबसे अधिक मांग वाले क्रेडिट कार्डों में से एक है. इसकी आवेदन प्रक्रिया काफी आसान है और उपयोगकर्ता शीघ्र एवं आसान वितरण प्रक्रिया की उम्मीद कर सकते हैं.

एचडीएफसी बैंक- एचडीएफसी बैंक किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) (किसान क्रेडिट कार्ड) लगभग 9.00 प्रतिशत की ब्याज दर पर लोन प्रदान करते हैं. ऑफर की गई अधिकतम क्रेडिट सीमा 3.00 लाख रुपये है. 25,000 रुपये की क्रेडिट सीमा वाली चेक बुक भी जारी की गई है. इसके अतिरिक्त किसी किसान की फसल खराब हो गयी है, तो उन्हें 4 साल या उससे अधिक का समय मिल सकता है. प्राकृतिक आपदाओं या कीटों के हमलों के कारण फसल खराब होने पर बीमा कवरेज भी प्रदान किया जाता है.

केसीसी पर ब्याज दर बैंक से बैंक में भिन्न होती है. हालांकि, अधिकांश बैंक सरकार की योजनाओं के अनुसार ब्याज उप-लोन प्रदान करते हैं, जहां पर लगाया गया ब्याज 2.00 प्रतिशत से कम हो सकता है.

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के लिए आवेदन करने के लिए योग्यता एवं शर्तें

  • सभी किसान जो अकेले या सामूहिक खेती या खेती संबंधित कार्य करते हैं
  • वे व्यक्ति जो स्वामी सह कृषक हैं
  • सभी किरायेदार किसान या मौखिक पट्टेदार और कृषि भूमि में बटाईदार हैं
  • स्व सहायता समूह या संयुक्त देयता समूह जिसमें किरायेदार किसान या बटाईदार शामिल हैं
  • किसानों को 5,000 रुपए और उससे अधिक के उत्पादन लोन के लिए योग्य होना चाहिए, और फिर वह केसीसी का हकदार होगा
  • ऐसे सभी किसान जो फसल उत्पादन या किसी भी संबद्ध गतिविधियों के साथ-साथ गैर-कृषि गतिविधियों के लिए शार्ट-टर्म लोन के लिए योग्य हैं
  • किसानों को उसी बैंक के क्षेत्र का निवासी होना चाहिए, जहां से केसीसी चाहता है

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के लिए आवेदन करते समय ये दस्तावेज जरूरी हैं

  • पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट आदि जैसे पहचान प्रमाण
  • एड्रेस प्रूफ के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस या कोई अन्य सरकार द्वारा स्वीकृत आईडी
  • आवेदनकर्ता का पासपोर्ट आकार का छायाचित्र
  • विधिवत और पूर्ण रूप से भरा और हस्ताक्षर किया आवेदन पत्र

ध्यान रहे कि सभी दस्तावेज़ और अन्य औपचारिकताएं बैंक के आंतरिक दिशा-निर्देशों के अनुसार भिन्न हो सकती हैं, ऊपर दी गई लिस्ट में केवल कुछ मूल दस्तावेज़ शामिल हैं.

ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें (How to Apply for KCC?)

ऑनलाइन

किसान जो केसीसी ऑनलाइन का लाभ उठाना चाहते हैं, वे नीचे दिए गए चरणों का पालन करके आसानी से कर सकते हैं:

  • पसंदीदा बैंक की वेबसाइट पर जाकर उनके किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) सेक्शन पर जाएं.
  • आवेदन फॉर्म डाउनलोड और प्रिंट करें.
  • आवेदन फॉर्म को विधिवत और पूर्ण रूप से भरें.
  • आवेदन पत्र और सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ निकटतम बैंक शाखा में जमा करें.
  • ऋण अधिकारी आवेदक के साथ सभी आवश्यक जानकारी साझा करेगा.
  • ऋण की राशि मंजूर होते ही कार्ड भेज दिया जाएगा.
  • केसीसी प्राप्त करने के बाद ग्राहक क्रेडिट कार्ड का उपयोग शुरू कर सकते हैं.

बैंक शाखा जाकर

आवेदक किसान केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) / KCC) के लिए बैंक के अधिकारी से भी मिल सकते हैं और बैंक अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं. अधिकारी फॉर्म भरने में आवेदक की मदद करेगा. बाद में, लोन अधिकारी आवश्यक विवरण साझा करेगा और आवेदन की प्रक्रिया करेगा.

किसान क्रेडिट कार्ड योजना की जानकारी

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card)  नियमित असुरक्षित क्रेडिट कार्ड से अलग हैं, वे निम्न तरीके से काम करते हैं-

  • ग्राहक को बैंक जाकर किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के लिए आवेदन करना होगा.
  • ऋण अधिकारी उस ऋण राशि पर निर्णय करेगा जो आवेदक को दी जाएगी. यह 00 लाख रुपये तक हो सकती है.
  • एक बार राशि स्वीकृत होने के बाद, उपयोगकर्ता किसान को बैंक का किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) जारी किया जाएगा.
  • कार्डधारक अब उस क्रेडिट की सीमा पर वस्तुओं की खरीद कर सकता है.
  • ब्याज दर केवल उस ऋण राशि पर लागू होगी जो लिया गया है.
  • समय पर भुगतान सुनिश्चित करेगा ताकि निकाले गए लोन पर न्यूनतम ब्याज दर लागू हो.
  • केसीसी कार्डधारक को गतिशील ऋण प्रदान करता है. इसका अर्थ है कि उपयोगकर्ता किसान अधिकतम क्रेडिट सीमा तक अपनी जरूरतों के मुताबिक लोन राशि निकाल सकते हैं. उपयोगकर्ता यह सुनिश्चित करेगा कि उन्हें एक बड़ी मूल राशि से जुड़े बड़े ब्याज का भुगतान नहीं करना पड़े.
  • बजट 2020 के बाद, सरकार ने किसानों को संस्थागत लोन को अधिक सुलभ बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया है, वे किसान सम्मान निधि योजना के साथ किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) (KCC) योजना को मर्ज करके ऐसा कर रहे हैं. किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी अब किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) का लाभ उठा सकेंगे, जिसके तहत वे केवल 4 प्रतिशत की रियायती दर पर खेती के लिए लोन ले सकते हैं.
  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के लिए आवेदन कैसे करें?
  • इस योजना के तहत किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) (किसान क्रेडिट कार्ड) के लिए आवेदन करने के लिए निम्न चरणों का पालन करने होगा-
  • एक पेज का आवेदन पत्र भरा जाना चाहिए जो सभी कॉमर्शियल बैंकों की वेबसाइट पर उपलब्ध होगा और सभी प्रमुख समाचार पत्रों में भी प्रकाशित होगा
  • आवेदक को जमीन के रिकॉर्ड और खेतीहर भूमि पर बोयी गई फसल जैसी आवश्यक जानकारी भरनी होगी.
  • कॉमन सर्विस सेंटर (ष्टस्ष्ट) में फॉर्म भरे और जमा किए जा सकते हैं और वे भरे हुए फॉर्म बैंक शाखाओं में ट्रांसफर करने के लिए भी जिम्मेदार हैं
  • बैंकों को यह भी निर्देश दिया गया है कि वे मौजूदा ग्राहकों को योजना के तहत लोन लेने के लिए प्रेरित करें

किसान क्रेडिट कार्ड योजना – मासिक अपडेट के साथ क्रेडिट रिपोर्ट मुफ्त प्राप्त करें –

कोविड -19 महामारी के कारण अर्थव्यवस्था में व्यवधान को देखते हुए भारतीय रिज़र्व बैंक (क्रक्चढ्ढ)ने वित्तीय संस्थानों, बैंकों और हृक्चस्नष्ट को लोन भुगतान पर 3 महीने की मोहलत प्रदान करने की अनुमति दी है. यह सुविधा सभी लोन अकाउंट के लिए है, जिसमें 1 मार्च, 2020 और 31 मई, 2020 के बीच उनकी भुगतान तिथि है.

इन जरूरी बिन्दुओं पर ध्यान दें

योग्यता- कोई भी जिसकी पुनर्भुगतान तिथि 1 मार्च 2020 और 31 मार्च 2020 के बीच है.

आवेदन कैसे करें?- मोरेटोरियम अवधि के लिए आवेदन करने के लिए ग्राहकों को बैंक के संपर्क में रहना होगा. हालांकि, कुछ बैंक स्वत: ही लोन अकाउंट पर मोरेटोरियम अवधि लागू कर देंगे यदि ग्राहक 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2020 के बीच भुगतान रोक देता है

इसमें कौन से लोन भुगतान को कवर किया जाता है?

यह सुविधा निम्नलिखित भुगतानों पर मान्य है-

  • मूल राशि और / या ब्याज
  • बुलेट पुनर्भुगतान
  • समान मासिक किस्तों
  • क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट

मोरेटोरियम अवधि- केवल तीन महीने की मोरेटोरियम अवधि ली जा सकती है. ग्राहक को ब्याज भुगतान से बचने के लिए अपने लोन का भुगतान तय तिथि पर करना चाहिए.

ऑटो-पे– मोरेटोरियम अवधि का लाभ उठाने की योजना बना रहे ग्राहकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उसने भुगतान के लिए बैंक में दिए गए स्थायी निर्देश को रोक दिया है.

क्रेडिट स्कोर- इस सुविधा का लाभ उठाना आपके क्रेडिट स्कोर को प्रभावित नहीं करेगा या भुगतान पर डिफ़ॉल्ट के रूप में गिना जाएगा.

एक से अधिक लोन अकाउंट पर लागू- ग्राहक किसी भी और सभी लोन अकाउंट पर मोरेटोरियम के लिए आवेदन कर सकते हैं जो उनके पास हैं.

FAQ- Kisan Credit Card Scheme

सवाल- क्या मोरेटोरियम अवधि के लिए आवेदन करना चाहिए?

मोरेटोरियम अवधि के दौरान मूल बकाया राशि पर ब्याज लिया जाएगा. इसलिए, यदि आवश्यक हो तो ही मोरेटोरियम का लाभ उठाएं.

सवाल- क्या किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) में रिवाल्विंग लोन सुविधा है?

जवाब- हां, सामान्य क्रडिट कार्ड की तरह ही, किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) पर भी रिवाल्विंग क्रेडिट की सुविधा उपलब्ध है.

सवाल-  इस क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे आवेदन कर सकते है?

जवाब- यदि आप इस कार्ड के लिए योग्य हैं, तो ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं या नज़दीकी बैंक शाखा या हृ्रक्चक्च कार्यालय पर जाकर आवेदन फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं. केसीसी फार्म उन किसानों के लिए हिंदी में भी उपलब्ध है, जो अंग्रेजी नहीं समझ सकते.

सवाल- इन क्रेडिट कार्डों पर क्या प्रोत्साहन और छूट उपलब्ध हैं?

जवाब- बैंक अपने विवेक से इस शुल्क को आमतौर पर माफ करते हैं-

    • क्रेडिट सीमा के भीतर कार्ड की प्रोसेसिंग फीस 3 लाख रुपये तक माफ की गई है.
    • एक लाख रुपये तक की क्रेडिट सीमा के भीतर केसीसी के लिए सिक्योरिटी सुरक्षा माफ कर दी गई है.

सवाल- केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) की क्रेडिट सीमा की गणना करने में कौन से कारक हैं?

जवाब- कार्ड के आधार पर प्रारंभिक क्रेडिट सीमा इन आधार पर पेश की जाती है-

    • भूमि क्षेत्र, बोई गई फसल, आदि
    • कटाई के बाद का खर्च और घरेलू जरूरतें
    • फसल और कृषि संपत्ति के रख-रखाव के लिए आवश्यक अन्य व्यय जिसमें फसल बीमा के साथ-साथ व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना भी शामिल हैं.

सवाल-  क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे आवेदन कर सकते हैं?

जवाब- यदि आप इस कार्ड के लिए योग्य हैं, तो आप या तो ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं या नजदीकी बैंक शाखा या नाबार्ड कार्यालय जाकर आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं. किसान क्रेडट कार्ड (KCC) के लिए हिंदी में आवेदन फॉर्म उन किसानों के लिए भी उपलब्ध है जो अंग्रेजी नहीं समझ सकते हैं.

सवाल- इन क्रेडिट कार्डों पर क्या प्रोत्साहन और छूट उपलब्ध हैं?

जवाब- अपने स्वयं के विवेक पर बैंकों को सिक्योरिटी सुरक्षा की आवश्यकता नहीं है क्योंकि लोन राशि रु.1.60 लाख से कम है.

सवाल- इस कार्ड के साथ व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना के लिए बीमा प्रीमियम क्या है?

जवाब- आम तौर पर, व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा की ओर प्रीमियम 1 वर्ष के लिए 15 रुपये है, और 3 साल के अवधि के लिए 45 रुपये है.

⇒ केंद्र सरकार की अन्य योजनाओं की जानकारी के लिए  विजिट करें

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!