वरिष्ठ साहित्यकार प्रेमशंकर चौधरी का निधन

वरिष्ठ साहित्यकार प्रेमशंकर चौधरी का निधन

इटारसी। वरिष्ठ साहित्यकार एवं एक जमाने में भाजपा के कद्दावर नेता रहे प्रेमशंकर चौधरी (Premshankar Choudhary) का 79 वर्ष की उम्र में निधन(Death) हो गया। वे होशंगाबाद जिला भाजपा पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ केअध्यक्ष एडवोकेट जयकिशोर चौधरी(Chairman Advocate Jai Kishore Chaudhary) के पिता थे। भारतीय जनसंघ, जनता पार्टी एवं भाजपा में उनकी अलग पहचान थी। सन् 2002 में स्व चौधरी की काव्यकृति श्मझधार की कश्ती् का प्रकाशन शांतिदेवी महादेव पगारे स्मृति समिति ने किया था। जिसका विमोचन पूर्व राज्यसभा सदस्य कैलाश सारंग ने किया था। चौधरी के निधन पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा(Former Vidhan Sabha Speaker Dr. Sitasaran Sharma), पूर्व विधायक गिरिजाशंकर शर्मा(former MLA Girijashankar Sharma), भाजपा जिलाध्यक्ष माधवदास अग्रवाल(BJP District President Madhavdas Agrawal), विधायक ठाकुरदास नागवंशी(MLAs Thakurdas Nagvanshi), विजयपाल सिंह(vijay paal singh), प्रेमशंकर वर्मा(Premshankar varma), पूर्व केंद्रीय मंत्री सरताज सिंह( Former Union Minister Sartaj Singh), पूर्व गृह उपमंत्री विजय दुबे काकूभाई(former Home Minister Vijay Dubey Kakubhai), होशंगाबाद जिला पत्रकार संघ अध्यक्ष प्रमोद पगारे(pramod pagare), बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अरविंद गोईल, नगर भाजपा अध्यक्ष डॉ. नीरज जैन, सांसद प्रतिनिधि राजा तिवारी, भाजपा नेता रामशंकर मेहतो, अरुण चौधरी, कल्पेश अग्रवाल, पूर्व सभापति राकेश जाधव, युवा मोर्चा अध्यक्ष राहुल चौरे, भाजपा नेता अभिषेक तिवारी ने श्रद्धांजलि दी। शान्तिधाम में पत्रकार प्रमोद पगारे ने समाज साहित्य एवं राजनीति में उनके दिए योगदान को याद किया और कहा कि स्वण् चौधरी ने सादगीपूर्ण जीवन जिया। स्वयं अनुशासित रहे एवं दूसरों को भी अनुशासन का पाठ पढ़ाते रहे। शान्तिधाम में उन्हें दो मिनट की मौन श्रद्धांजलि दी गयी।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: