भगवान श्री झूलेलाल को लगाया 56 व्यंजनों का महाभोग

भगवान श्री झूलेलाल को लगाया 56 व्यंजनों का महाभोग

चांद दिखते ही सिंधी समाज (Sindhi Samaj) ने मनाया अन्नकूट महोत्सव (Annakoot Utsav)

इटारसी। शहर के सिंधी समाज (Sindhi Samaj) ने भाईदूज (Bhai Dooj) पर श्री झूलेलाल मंदिर (Shri Jhulelaal mandir) में अन्नकूट उत्सव (Annakoot Utsav) का आयोजन शासन की कोरोना गाइड (Corona Guildline) लाइन के अनुसार किया। इस अवसर पर भगवान श्रीझूलेलाल को 56 प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया और बहराणा साहिब (Bahrana Sahib) को आहुति प्रदान की गई।
शाम सवा पांच बजे के बाद आसमान पर दूज का चांद दिखते ही भगवान झूलेलाल मंदिर में आरती के भक्तिमय स्वर गूंजने लगे। आरती के पश्चात उपस्थित श्रद्धालुओं ने यहां बनाए बहराणा साहिब के कलश में श्रद्धामयी आहूतियां प्रदान की। इस अवसर पर भगवान श्रीझूलेलाल की भव्य प्रतिमा के समक्ष 56 प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजनों का भोग लगाया। सिंधी समाज की प्रतिनिधि संस्था पूज्य पंचायत सिंधी समाज के अध्यक्ष अशोक लालवानी (Sindhi society president Ashok Lalwani) ने बताया कि पिछले वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष यह आयोजन सादगी पूर्ण तरीके से शासन की गाइड लाइन के अनुसार आयोजित किया। सिंधी समाज की युवा सामाजिक संस्था श्री झूलण सेवा समिति के अध्यक्ष मुकेश खुरानी (Chairman Mukesh Khurani) ने बताया कि समाज की परंपरा और शासन के दिशा निर्देश का पूर्णत: पालन करते हुए अन्नकूट उत्सव आयोजित किया और भगवान श्रीझूलेलाल से प्रार्थना की है कि वह शहर सहित पूरे देश को शीघ्र ही कोरोना मुक्त करे। श्रीझूलेलाल मंदिर में आयोजित इस कार्यक्रम के संयोजक गोमा खिलवानी (Convenor Goma Khilwani) ने बताया कि जैसे करवा चौथ का चांद दिखता है, वैसे ही दीपावली पर दूज का चांद दिखता है और इस पावन पुण्यचांद के स मान में यह आयोजन आस्थामय रूप से किया है। इस अवसर पर पूजा अर्चना व आरती के पश्चात संत कंवरराम धर्मशाला प्रांगण में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अन्नकूट का भोजन रूपी महाप्रसाद श्रद्धालुओं को वितरित किया।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: