सोपास ने की मंत्रियों से भेंट, मुख्यमंत्री को भी ज्ञापन दिया

सोपास ने की मंत्रियों से भेंट, मुख्यमंत्री को भी ज्ञापन दिया

होशंगाबाद। सोपास(Sopas) के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. आशीष चटर्जी(Dr. Ashish Chatterjee) के नेतृत्व में आज प्रदेश के एक दस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने अशासकीय स्कूलों की समस्याओं के त्वरित निदान(Quick diagnosis) के लिये सर्वप्रथम शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार(Education Minister Inder Singh Parmar), कृषि मंत्री कमल पटेल(Agriculture Minister Kamal Patel), सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया(Cooperative Minister Arvind Bhadoria) से सार्थक भेंट की और मुख्यमंत्री सचिवालय जाकर ज्ञापन दिया।

शिक्षा मंत्री परमार से प्रदेश अध्यक्ष ने कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की जिसमें आरटीई के अतिशीघ्र भुगतान, मान्यता वृद्धि, ट्यूशन फीस अनिवार्य रूप से जमा करने, किराये नामे को नोटराइज्ड करने पर सकारात्मक चर्चा की। संचालकों को ट्यूशन फीस के विषय में आ रही परेशानी के विषय में उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिये कि स्कूल बिल्कुल अपनी ट्यूशन फीस ले सकते हैं, उसमें कोई संशय नहीं न्यायालय व मुख्यमंत्री भी कह चुके हैं। स्कूल शिक्षण शुल्क लेने के लिये स्वतंत्र हैं, उसके अतिरिक्त वो कोई शुल्क न लें। उन्होंने कहा कि वर्ष भर की फीस को किश्तों में लेंगे तो अभिभावकों को भी आसानी होगी। उन्हें इस प्रकार से छोटे किश्तों में फ़ीस जमा करने हेतु स्कूल जागरूक करें।

लगभग आधे घंटे की वार्ता में उन्होंने शासकीय स्कूलों में चल रही योजना हमारा घर हमारा विद्यालय को निजी स्कूलों में क्यों नहीं कर सकते? प्रश्न में जवाब में कहा कि क्यों नहीं कर सकते। किसने रोका है बस 10-12 के समूह बनाकर सुरक्षा नियमों का पालन कर आप भी बच्चों की शिक्षा जारी रखने में मदद करें। शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार से भेंट के साथ ही सोपास के प्रदेश प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश अध्यक्ष डॉ आशीष चटर्जी के नेतृत्व में संरक्षक दीपांकर बैनर्जी, प्रदेश उपाध्यक्ष गौरीशंकर यादव सीहोर, विनय यादव बुदनी,अनुराधा श्रीवास्तव अध्यक्ष रीवा संभाग, वीएस संचार, देवेन्द्र अजमेरा रायसेन, विजय पटैल उज्जैन एवं सुनील खाम्बरा मंडीदीप के साथ अशासकीय स्कूलों की समस्या के त्वरित निदान के लिये मंत्री कमल पटैल से भी निवेदन किया।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: