शांति समिति की बैठक: कंटेन्मेंट जोन में नहीं होगी मूर्ति स्थापना

शांति समिति की बैठक: कंटेन्मेंट जोन में नहीं होगी मूर्ति स्थापना

शांति समिति की बैठक के नाम पर अधिकारियों ने की रस्म अदायगी, बताए सिर्फ नियम

न बिजली अधिकारी आए न नपा से कोई आया

इटारसी। शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) के दौरान होने वाले दुर्गा उत्सव (Durga Utsav) में कोविड-19 के नियमों का सख्ती से पालन करना होगा। इस बात का ध्यान रखें कि कोरोना संक्रमित परिवार (Corona Infected Family) का कोई भी सदस्य पंडाल में न आयें, कंटेन्मेंट जोन में स्थापना नहीं होगी, जुलूस नहीं निकलेगा, उत्सव समितियों के सभी सदस्य पूरे वक्त मास्क लगाएंगे। जो भी समिति रहेगी उसे पुलिस को सदस्यों के नाम और मोबाइल नंबर सहित ड्यूटी चार्ट सौंपना होगा। किसी भी मूर्ति के पास सौ से अधिक लोग नहीं जुटेंगे। विसर्जन के लिए केवल दस सदस्यों को अनुमति होगी और इस दौरान भी जुलूस नहीं निकलेगा। लाउड स्पीकर सुबह 6 से रात 10 बजे तक ही बजेंगे। दशहरा उत्सव (Dasehra Utsav) के दौरान रावण दहन (Ravan Dahan) भी समिति के सदस्य, प्रशासन की मौजूदगी में ही करेंगे। रावण दहन के दौरान भी केवल सौ लोगों को अनुमति होगी।

यह सार हैं, आज कवि भवानी प्रसाद मिश्र संस्कृति भवन में हुई शांति समिति की बैठक (Shanti samiti bethak) के। बैठक में मौजूद एसडीएम एमएस रघुवंशी (MS Raghuwanshi, SDM itarsi), एसडीओपी महेन्द्र मालवीय (Mahendra Malviya, SDM itarsi) और टीआई रामस्नेह चौहान (Ramsnesh Chouhan, TI Itarsi) ने समिति सदस्यों और उत्सव समिति(Utsav Samiti) के सदस्यों को शासन की गाइड लाइन से अवगत कराया और उत्सव के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों और नियमों से अवगत कराया। एसडीएम और टीआई ने समिति के सदस्यों से शासन की गाइड लाइन का अनिवार्यत: पालन करने को कहा।

प्रतिबंधों के साथ मनाना है उत्सव
एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी (Madan Singh Raghuwanshi, SDM itarsi) ने कहा कि इस वर्ष कई तरह के प्रतिबंधों के साथ ही दुर्गा उत्सव (Durga Utsav) मनाया जाएगा। निर्देशों का कड़ाई से पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि अभी बदले हुए लिखित आदेश नहीं आए हैं। मूर्ति की ऊंचाई और पंडाल के नियम का पालन करना होगा। पंडाल में मौजूद हर सदस्य को पूरे वक्त मास्क(Mask) लगाकर रखना, सेनेटाइजर(Senitizer) का उपयोग करना और सोशल डिस्टेंसिंग(Social Distancing) रखना अनिवार्य है। विद्युत व्यवस्था ऐसी न हो जिससे दुर्घटना हो। विधिवत कनेक्शन और प्रशासन से अनुमति लेना होगा। ऐसा स्थान भी न चुनें जहां यातायात बाधित होता हो।

ड्यूटी चार्ट बनाकर पुलिस को दें
टीआई रामस्नेह चौहान (Ramsneh Chouhan, TI itarsi )ने कहा कि समिति को एक ड्यूटी चार्ट बनाकर सदस्यों के नाम और मोबाइल नंबर पुलिस को देने होंगे जिसे पोर्टल पर अपलोड करना होगा और रात्रि गश्त के दौरान पुलिस चेक करेगी। पंडाल में जुआ या पत्ते नहीं खेले जाएंगे और ना ही कोई अश्लील वीडियो देखेगा। रात के वक्त केवल दो लोगों को पंडाल में रहने की अनुमति होगी। डीजे प्रतिबंधित है, निर्धारित साउंड में स्पीकर चल सकता है। जुलूस की अनुमति नहीं है, आरती के वक्त या स्थापना के वक्त ढोल या बैंड एक ही स्थापना पर रहकर बजाए जा सकेंगे। साउंड रात 10 से सुबह 6 तक नहीं बजेंगे। प्रसाद वितरण के वक्त बांटने वाला मास्क लगाएगा।

एसडीएम की बात को टीआई ने संभाला
शांति समिति की बैठक के बाद मीडिया ने जब एसडीएम एमएस रघुवंशी से रावण दहन (Ravan Dahan) संबंधी सवाल किया तो वे बोले कि रावण दहन तो होगा। जब उनको कहा कि हजारों की भीड़ आती है, कैसे रोकेंगे? उनका जवाब था सरकार के नियमों का पालन करना होगा। यदि ऐसा हुआ तो यदि सार्वजनिक नहीं कर सब अपनी-अपनी समिति के अपनी अपनी गली में जला लें। उनकी बात को टीआई राम स्नेह चौहान ने संभाला। टीआई ने कहा कि दशहरा उत्सव समिति प्रशासन की उपस्थिति में रावण दहन करेगी। केवल सौ लोगों की पूरी गाइड लाइन के अनुसार मौजूदगी की अनुमति रहेगी। हो सका तो सोशल मीडिया पर इसका लाइव प्रसारण कराएंगे। या बड़े स्क्रीन लगा के भीड़ को नियंत्रित करें। इस विषय पर अलग से बैठक करने की बात भी टीआई चौहान ने बोली।

न बिजली अधिकारी आए न नपा से कोई आया
दुर्गा उत्सव के दौरान अनिवार्य बिजली व्यवस्था और सफाई व्यवस्था का भरोसा दिलाने के लिए शांति समिति की बैठक में नगर पालिका (Nagarpalika)और बिजली विभाग(MPEV office) से अधिकारी आते हैं। आज की बैठक में ये दोनों ही विभाग से अधिकारी नदारद थे। समिति सदस्यों को किसी ने यह नहीं बताया कि आखिर वे विद्युत कनेक्शन (Electrical connection) लेंगे तो उनको कितनी राशि जमा करनी होगी। न ही नगर पालिका से यह आश्वस्त किया गया कि पानी की सप्लाई कितने वक्त के लिए होगी और सफाई व्यवस्था कैसी रहेगी। कुल जमा शांति समिति की बैठक में केवल शासन की गाइड लाइन बताने की रस्म अदायगी की है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: