अवैध कॉलोनाइजर के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

अवैध कॉलोनाइजर के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर ने दिये निर्देश

होशंगाबाद। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) ने जिले के अनुविभाग में कार्यरत एसडीएम को निर्देश दिये हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्र में अवैध कालोनाइजर्स के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करें। कलेक्टर ने जिले में 25 दिसंबर तक सैकंड डोज के ड्यू नागरिकों का शत प्रतिशत टीकाकरण के निर्देश भी दिये। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जनपद एवं शहरी क्षेत्रों में महिला एवं बाल विकास विभाग (child development department) के अमले के माध्यम से टीकाकरण के शेष नागरिकों का केंद्रों पर मोबिलाइजेशन किया जाए। टीकाकरण कार्य में लापरवाही वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व व टीकाकरण अधिकारियों को दिए।

प्रत्येक ग्राम पंचायत एवं वार्डों में टीकाकरण के लिए जिला स्तरीय नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी होगी कि वे अपने क्षेत्र में टीकाकरण के शेष नागरिकों की सूची के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति का टीकाकरण सुनिश्चित कराएं। सभी जिला अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने अधीनस्थ कार्यालयों में पदस्थ सभी अधिकारियों कर्मचारियों का टीकाकरण सुनिश्चित कराएं। कलेक्टर सिंह ने सभी टीकाकरण केंद्रों पर अनिवार्य रूप से प्रात: 8 बजे से टीकाकरण प्रारंभ करने के निर्देश दिए। राज्य शासन द्वारा कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु होने पर मृतक के वारिसान को 50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि दिए जाने के संबंध में जारी निर्देशों के अनुरूप आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को दिए।

कलेक्टर सिंह ने सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में अवैध कॉलोनाइजर (illegal colonizer) के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। ऐसे वैध कॉलोनाइजर जो निर्धारित शर्तों के अनुरूप कॉलोनी में कार्य पूर्ण नहीं कर रहे हैं उनके विरुद्ध भी आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये। कलेक्टर ने तवा पुल के मरम्मत कार्य में अपेक्षित गति न लाने और निर्धारित समय सीमा में कार्य नहीं पूर्ण करने पर संभागीय प्रबंधक मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम प्रवीण निमझे (Praveen Nimjhe) को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश।

कलेक्टर सिंह ने जिले में खाद की उपलब्धता एवं वितरण तथा खरीफ उपार्जन कार्य की विस्तृत समीक्षा कर उप संचालक कृषि एवं संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिले को प्राप्त हो रहे उर्वरकों का सुचारू रूप से वितरण कराएं। उन्होंने समस्त उपार्जन संबंधी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे धान उपार्जन के लिए बनाए गए सभी केंद्रों का भ्रमण कर वहां खरीदी के लिए समुचित व्यवस्थाएं की जाए।

सीएम हेल्प लाइन की शिकायतों की समीक्षा करें सभी विभागों के अधिकारियों को शिकायतों का संतुष्टिपूर्वक निराकरण नहीं करने पर जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक वित्त विभाग, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, नोडल प्राचार्य कालेज से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिए।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!