Tag: Satyendra singh

साहित्य: शब्द और सत्य…

Poonam Soni- 17/11/2020

बांचा तो जाऊंगा पता नहीं कब, कौन, किस तरह बांचेगा यह उसके मन की बात है मुझे जो महसूस होता है वह लिखता जाऊंगा, लिखता ... Read More

कविता: सपने

Poonam Soni- 24/08/2020

सत्येंद्र सिंह(Satyendra singh) ऐसा लगता है अंदर भी रतौंधी आ गई है, सारे सपने धुंधले धुंधले दिखते हैं, लोगों ने जो सपने दिखाए थे उनका ... Read More

error: Content is protected !!
Narmadanchal

FREE
VIEW