गौरव एवं गरिमा के साथ मनाया कॉलेज में शिक्षक दिवस

गौरव एवं गरिमा के साथ मनाया कॉलेज में शिक्षक दिवस

इटारसी। शासकीय महात्मा गांधी स्मृति स्नातकोत्तर महाविद्यालय, इटारसी (Government Mahatma Gandhi Memorial Postgraduate College, Itarsi) में मां सरस्वती एवं सर्वपल्ली राधाकृष्णन (Sarvepalli Radhakrishnan) के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ शिक्षक दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया।
विद्यार्थियों ने सभी प्राध्यापकों को कुमकुम का तिलक लगा कर सम्मानित किया। प्राचार्य डॉ. राकेश मेहता ने कहा कि भारतीय सांस्कृतिक चेतना में गुरू को सर्वोपरी स्थान दिया है। भारतीय ज्ञान मीमांसा में ऋषि परम्परा इस बात का प्रमाण है, आज के शिक्षक इसी परम्परा का निर्वहन कर रहे हैं। प्राचार्य ने भारतीय सनातन परंपरा के महान गुरुओं में मदन मोहन मालवीय (Madan Mohan Malaviya), रामकृष्ण परमहंस (Ramakrishna Paramhansa), स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda), रविन्द्रनाथ टैगोर (Rabindranath Tagore), सावित्री बाई फुले (Savitri Bai Phule) को नमन किया। उन्होंने कहा कि उत्कृष्ठ शिक्षक को लीडरशिप मैनेजमेंट के कौशल को दर्शाना होगा तभी हम प्रतिष्ठित हो पायेंगे।
प्राणीशास्त्र विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. सूसन मनोहर ने शिक्षक पर्व पर आयोजित होने वाली कार्यक्रमों की विभिन्न गतिविधियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। पॉवरपाइंट प्रजेंटेशन (Powerpoint Presentation) से सहायक प्राध्यापक डॉ. नीलिमा तिवारी ने भारतीय मनीषा में प्रमुख शिक्षकों के योगदान को बताया जिसमें सर्वपल्ली राधाकृष्णन, डॉ. अब्दुल कलाम आजाद (Dr. Abdul Kalam Azad), स्वामी विवेकानंद, आर्यभट्ट (Aryabhatta), दयानंद सरस्वती (Dayanand Saraswati), राजाराम मोहन राय  (Rajaram Mohan Roy) रविन्द्रनाथ टैगोर इत्यादि शिक्षकों के जीवन चरित्र के प्रशंगों के माध्यम से शिक्षक के गौरवमयी परम्परा से अवगत कराया। इस अवसर पर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन पर आधारित फिल्म भी दिखायी।
बीकॉ प्रथम वर्ष की छात्रा दर्शना इवने ने शिक्षक का विद्यार्थी के जीवन पर क्या महत्व है, इस पर अपने विचार रखे। छात्र आयुष मेहतो ने शिक्षक पर अपनी मौलिक कविता का पाठ किया। छात्र फैज ने शिक्षक और विद्यार्थी के अंत: संबंधों से देश की प्रगति में अपने योगदान को रेखांकित किया। कार्यक्रम की संयोजक डॉ. रश्मि तिवारी के मार्गदर्शन में एमएससी बॉयोटेक की छात्रा दीक्षा उमरिया ने कार्यक्रम का सफल संचालन किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राध्यापकों में डॉ. अरविंद शर्मा, डॉ. रश्मि तिवारी, डॉ. अर्चना शर्मा, डॉ. ओपी शर्मा, डॉ. मुकेश कुमार जोते, डॉ. पीके अग्रवाल आदि एवं बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!