निरीक्षण में कई स्कूलों में गैरहाजिर मिले शिक्षक

निरीक्षण में कई स्कूलों में गैरहाजिर मिले शिक्षक

सिवनी मालवा। कोविड (Kovid) के बढ़ते संक्रमण के कारण स्कूलों में 31 जनवरी तक बच्चों को छुट्टी दे दी गयी है, लेकिन स्टाफ (Staff) को आना है। बावजूद इसके शिक्षक स्कूलों में नहीं पहुंच रहे हैं। मप्र स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक समग्र शिक्षा अभियान राजेश गुप्ता (Rajesh Gupta) ने सिवनी मालवा (Seoni Malwa) के स्कूलों (Schools) का निरीक्षण किया तो अनेक स्कूलों में शिक्षक नदारद मिले।
निरीक्षण के दौरान उन्होंने 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग को शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए निर्देश दिए कि कोई भी विद्यार्थी टीकाकरण से वंचित न रहे। विशेष परिस्थितियों में टीका नहीं लग पाने का समुचित कारण विद्यार्थियों के नाम सहित संस्था प्रमुख नोट करके रखें। संकुल प्राचार्य संकुल के शासकीय निजी विद्यालयों में टीकाकरण के लिए विजिट (Visit) करने के भी निर्देश दिए, साथ ही कहा कि ड्रॉपआउट (Dropout) विद्यार्थियों को शत-प्रतिशत टीकाकरण कराया जाना है। निर्देशित किया कि टीकाकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ पूर्ण कराने का दायित्व संस्था प्रमुख का रहेगा। एडीपीसी (ADPC) ने शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, शासकीय नवीन हाई स्कूल का निरीक्षण किया। छात्र-छात्राओं के अवकाश के पहले ही दिन शनिवार को माध्यमिक शाला रावन पीपल, प्राथमिक शाला पारदी टोला, माध्यमिक शाला अमलाडा खुर्द, माध्यमिक शाला फरीदपुर बंद मिलीं।
अनुविभागीय अधिकारी अखिल राठौर (Akhil Rathore) ने भी शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिवनी मालवा का निरीक्षण किया तथा सहायक संचालक शिक्षा श्याम सिंह रघुवंशी (Shyam Singh Raghuvanshi) एवं संकुल प्राचार्य को निर्देशित किया कि सभी गैरहाजिर एवं लापरवाह शिक्षकों को नोटिस (Notice) जारी करके 1 दिन का वेतन काटा जाए।


CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!