फैसला: शहर दो दिन रहेगा पूर्णता: बंद

फैसला: शहर दो दिन रहेगा पूर्णता: बंद

बाजार का समय सुबह 10:00 से शाम को 6:00 बजे तक

इटारसी। अब शहर का बाजार शनिवार(Saturday) और रविवार(Sunday) को पूर्णता बंद(Lockdown) रहेगा। इसके अलावा बाजार का समय हर रोज सुबह 10:00 से शाम को 6:00 बजे तक ही रहेगा फुल्की चाट के ठेले को शाम 6:00 से 9:00 तक का समय दिया गया है। मेडिकल स्टोर(Medical Store) इन पाबंदियों से प्रथक रहेंगे कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए आज ऑडिटोरियम के ग्राउंड फ्लोर पर प्रशासन और व्यापारियों के बीच बाजार के समय और पाबंदियों को लेकर एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जो खास निर्णय हुए उसके अनुसार शनिवार और रविवार को ना सिर्फ बाजार बल्कि प्रयास यह होगा कि सबकुछ शहर को बंद रखा जाए। इस दौरान केवल मेडिकल और क्लीनिक को छूट रहेंगी। सोमवार से शुक्रवार बाजार का समय सुबह 10:00 से शाम को 6:00 बजे तक ही रहेगा इसी तरह धारा

144 लागू है इस शक्ति से पालन कराने के लिए अब प्रशासन मुस्तैदी से काम करेगा
विधायक डॉ. सीताशरण शर्मा(MLa Dr. Sitasaran Sharma)ने बताया कि शिकायतें आ रही है कि कोरोना पॉजिटिव लोग घूम रहे हैं और जानकारी नहीं दे रहे हैं। हमने समाज से अनुरोध किया है कि वे केवल प्रशासन के भरोसे ना रहें खुद भी ऐसे लोगों को रोकने की कोशिश करें और यदि वे नहीं रुकते हैं तो प्रशासन की मदद ले सकते हैं। विधायक ने कहा कि अस्पताल में बेड बढ़ाने की बात भी बैठक में आई है, पवारखेड़ा के कोविड सेंटर में बेड बढ़ाए रहे हैं। यहां इटारसी अस्पताल में भी प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गृह विभाग से भी आदेश जारी होने वाले हैं कि धारा 144 का सख्ती से पालन कराया जाए अब प्रशासन इस ओर भी शक्ति से काम करेगा।

इनका कहना है…!
विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा(MLA Dr. Sitasaran Sharma) ने समाज से आह्वान किया है कि वे बुराई से डरना छोड़ कर मैदान में आएं और ऐसे लोगों का सख्ती से विरोध करें जो कोविड पॉजिटिव होने के बाद भी बाजार में घूम रहे हैं। उन्होंने व्यापारियों से अनुरोध किया कि अपनी दुकानों पर कम से कम लोगों को बैठाएं। मास्क(Mask) का उपयोग करें, सैनिटाइजर(Sanitizer) का उपयोग करें। मेडिकल की सुविधा कम होने की शिकायतों पर उन्होंने कहा कि अस्पताल पर बोझ बढ़ा है जो सुविधाएं कम लग रही हैं। जो सुविधाएं कम हैं उनको बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। लेकिन अब तक व्यवस्थाएं भी अस्पताल ने ही संभाल के रखी हैं।

डॉ. शर्मा(Dr. Sitasaran Sharma) ने कहा कि बाजार का समय शाम को 6 बजे तक ही होना चाहिए। क्योंकि लोग दिन में ही खरीदारी करने निकलते हैं, शाम के समय सिर्फ घूमने के लिए आते हैं। उन्होंने प्रशासन से भी अनुरोध किया है कि नियमों का पालन कराने के लिए अब पुलिस के साथ लाठी लेकर बाजार में निकलना पड़ेगा। उन्होंने व्यापारियों से अनुरोध किया है कि दुकानों के सामने बाहर तक सामान ना रखें लोगों को जिससे परेशानी हो

आज बैठक में व्यापारिक संगठनों ने प्रशासन के साथ मिलकर सामूहिक निर्णय लिया है कि शनिवार और रविवार को बाजार बंद रखा जाएगा। तथा अन्य दिनों में बाजार का समय सुबह 10 से शाम को 6 बजे तक रहेगा। हमारा मानना है कि इटारसी शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या को रोकने के लिए यह निर्णय मील का पत्थर साबित होगा।
मदनसिंह रघुवंशी(Madan Singh Raghuvanshi), एसडीएम(SDM)

 

ये बोले व्यापारी …!

वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद पगारे(Pramod Pagare) ने कहा कि हमें एकजुट होकर यह प्रयास करने होंगे इस संक्रमण की चैन कैसे टूटे।

रेडीमेड कपड़ा व्यापारी कन्हैया गुरयानी(Kanhaiya Gurayani) ने कहा कि शहर में मेडिकल की सुविधा भगवान भरोसे चल रही है, यदि लोगों को जागरूक किया जाए और मेडिकल की सुविधा बढ़ाई जाए तो हम संक्रमण को रोक सकते हैं। यदि बंद रखने से कोरोना की चेन टूटती है तो 7 दिन नहीं, 21 दिन का बंद होना चाहिए।

सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष यज्ञदत्त गौर(Yajnadatta Gaur) ने कहा कि जिन लोगों का धंधा शाम के समय का है, उनका ध्यान रखा जाना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने सुझाव दिया कि जिन लोगों के टेस्ट हो रहे हैं, उनके नाम सार्वजनिक होना चाहिए। चाहे पॉजिटिव के नाम सार्वजनिक ना किए जाएं। इसके अलावा उन्होंने एक सुझाव दिया कि बाजार में अनावश्यक भीड़ को रोकने के लिए प्रशासन को कदम उठाने चाहिए।

– बाजार का समय सुबह 10 से शाम को 6 बजे तक रखने और शनिवार और रविवार को बंद रखने का सुझाव व्यापारी प्रतिनिधि गोविंद बांगड़ ने रखा।

-व्यापारी नितेश जैन (Nitesh Jain)ने शनिवार और रविवार को बाजार बंद करने के प्रस्ताव का समर्थन किया लेकिन बाजार खोलने का समय सुबह 10 बजे से शाम को 3 बजे तक ही करने का सुझाव दिया।

– व्यापारी मोहन लाल चेलानी(Mohan Laal Chelani)  मानना था कि बाजार शनिवार बंद करने से बेहतर यह है कि केवल रविवार को बंद रखा जाए और बाजार का समय परिवर्तन किया जाए।

– किराना व्यापारी सुरेंद्र अग्रवाल (Surendra Agrawal) ने कहा कि बाजार को 1 सप्ताह के लिए पूर्णत: बंद किया जाना चाहिए, साथ ही बाजार में जो अनावश्यक मोटरसाइकिल लेकर लोग घुस रहे हैं, उस पर रोक लगाएं ताकि बाजार में भीड़ ना बढ़े। इसी तरह फल और सब्जी वालों को एक स्थान पर भीड़ लगाकर बैठाने की वजह उनको दूर दूर बैठा कर व्यवस्था बनानी चाहिए।

– सर्राफा व्यापारी संतोष सोनी (Santosh Soni) ने कहा कि व्यापार जिंदा रहने से ज्यादा महत्वपूर्ण नहीं है। यदि कोरोनावायरस के प्रभाव को रोकना है 1 सप्ताह बाजार बंद रखना मुनासिब होगा। यदि सबकी सहमति हो तो इसे किया जाना चाहिए।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: